शुक्रवार, 12 जुलाई 2024
  • Webdunia Deals
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. प्रादेशिक
  4. Curfew imposed in Odishas Balasore after violent clash Section 144 enforced, internet services suspended
Last Updated :बालासोर , मंगलवार, 18 जून 2024 (22:56 IST)

ओडिशा के बालासोर में 2 समूहों के बीच झड़प, लगा कर्फ्यू, इंटरनेट सेवाएं 48 घंटे के लिए बंद

ओडिशा के बालासोर में 2 समूहों के बीच झड़प, लगा कर्फ्यू, इंटरनेट सेवाएं 48 घंटे के लिए बंद - Curfew imposed in Odishas Balasore after violent clash Section 144 enforced, internet services suspended
Balasore Curfew :  ओडिशा सरकार ने बालासोर शहर में 2 समूहों के बीच झड़प के बाद शहर में इंटरनेट सेवाओं को 48 घंटे के लिए निलंबित कर दिया और कर्फ्यू अनिश्चित काल के लिए बढ़ा दिया। सोमवार को हुई इस झड़प में 10 लोग घायल हो गए हैं।बालासोर की पुलिस अधीक्षक (SP) सागरिका नाथ ने कर्फ्यू अवधि के दौरान निवासियों से घर के अंदर रहने का आग्रह किया। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि सोमवार से दंगों से संबंधित आरोपों में 7 प्राथमिकी दर्ज की गई हैं और 34 लोगों को हिरासत में लिया गया है।
 
कानून और व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस के 40 से ज़्यादा प्लाटून तैनात किये गए हैं, खास तौर पर उन इलाकों में जहां प्रशासन को झड़प होने की आशंका है। एसपी ने बताया कि शहर में आने-जाने के सभी छह रास्ते बंद कर दिए गए हैं। शहर के संवेदनशील इलाकों में फ्लैग मार्च भी किया गया।
उन्होंने कहा कि परीक्षा या मेडिकल आपात स्थिति के लिए यात्रा करने वालों को छूट दी जाएगी, बशर्ते वे ज़रूरी दस्तावेज़ दिखाएं। हिंसा के दौरान संपत्ति के नुकसान और वाहनों के नष्ट होने की विस्तृत जानकारी एसपी ने नहीं दी है।
 
अधिकारियों ने बताया कि हालांकि मुख्यमंत्री मोहन चरण माझी ने पहले ही हस्तक्षेप करते हुए बालासोर कलेक्टर को शांति बहाल करने के लिए तत्काल कदम उठाने के निर्देश दिए हैं।
 
अधिकारियों ने बताया कि ओडिशा के मुख्यमंत्री मोहन चरण माझी ने सोमवार को बालासोर के जिलाधिकारी आशीष ठाकरे से बात की और स्थिति को नियंत्रण में लाने के लिए उन्हें तत्काल कदम उठाने को कहा।
 
शहर के भुजखिया पीर इलाके में सोमवार को मवेशियों की कुर्बानी से सड़क पर खून बहने का विरोध जताते हुए लोगों का एक समूह धरने पर बैठ गया। पुलिस ने बताया कि दूसरे समूह ने कथित तौर पर उन पर पथराव किया, जिसके बाद झड़प शुरू हो गई।
 
अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून- व्यवस्था) संजय कुमार बालासोर में डेरा डाले हुए हैं। एक अधिकारी के अनुसार, सांप्रदायिक तनाव को बढ़ाने वाले भड़काऊ संदेशों के प्रसार को रोकने के लिए 48 घंटे के लिए इंटरनेट निलंबित करने का फैसला लिया गया है।
उपमुख्यमंत्री केवी सिंह देव ने कहा कि मुख्य सचिव और डीजीपी बालासोर में स्थिति की निगरानी कर रहे हैं और मामले से मुख्यमंत्री को अवगत करा रहे हैं। हम सभी से शांति बनाए रखने की अपील करते हैं।
बालासोर के विधायक मानस दत्ता ने लोगों से सोशल मीडिया पर अफवाहों और फर्जी पोस्ट पर विश्वास न करने की अपील की है। उन्होंने कहा, "बालासोर में हाल ही में हुई हिंसा के नाम पर पुरानी तस्वीरें पोस्ट की जा रही हैं। मैं लोगों से अपील करता हूं कि वे ऐसी अफवाहों से प्रभावित न हों। सरकार शांति बहाल करने के लिए सभी कदम उठा रही है। बालासोर के सांसद प्रताप सारंगी ने भी लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की। भाषा
 
ये भी पढ़ें
राजनाथ ने की वरिष्ठ मंत्रियों से मुलाकात, संसद की रणनीति पर हुई चर्चा