भाजपा का खुलासा, परिवार बचाने के लिए नित्यानंद राय से मिले थे तेजस्वी

Last Updated: मंगलवार, 19 जुलाई 2022 (15:12 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। भाजपा की बिहार इकाई के अध्यक्ष संजय जायसवाल ने मंगलवार को दावा किया कि राजद के नेता चाहते थे कि केंद्र सरकार उनके परिवार को भ्रष्टाचार के मामलों में बचाए। वह इसके बदले राज्य में पार्टी की सरकार बनाने के लिए समर्थन देने को तैयार थे।

जायसवाल ने बताया कि यादव ने केंद्रीय मंत्री को एक उड़ान के दौरान यह पेशकश की थी। उन्होंने कहा कि राजद नेता का यह दावा कि राय उनकी पार्टी में शामिल होना चाहते थे, हताशा में दिया गया बयान था क्योंकि भाजपा ने भ्रष्टाचार से समझौता करने से इनकार कर दिया था। उन्होंने कहा कि यह राय की यादव के साथ एकमात्र मुलाकात थी।
राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव ने सोमवार को पटना में दावा किया था कि राज्य से भाजपा के वरिष्ठ नेता राय ने 2019 में केंद्रीय मंत्री परिषद में शामिल किए जाने से पहले पाला बदलने की इच्छा जाहिर की थी।

लोकसभा सांसद जायसवाल ने यादव पर पलटवार करते हुए कहा कि वह राय के बारे में ऐसे झूठे दावे इसलिए कर रहे हैं क्योंकि भाजपा ने भ्रष्टाचार पर समझौता करने से इनकार कर दिया था। भाजपा नेता ने कहा कि उनके (तेजस्वी के) परिवार के सदस्यों पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप हैं और उन्हें जेल जाना ही होगा।
उन्होंने कहा कि वह चाहते थे कि भाजपा उनके परिवार के सदस्यों को जेल जाने से बचाए। वह भाजपा के समर्थन और राज्य में उसकी सरकार बनवाने में मदद के लिए तैयार थे। लेकिन हमारी पार्टी ने भ्रष्टाचार पर समझौता करने से इनकार कर दिया।

तेजस्वी यादव बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के बेटे हैं। लालू और उनके परिवार के कुछ अन्य सदस्यों पर भ्रष्टाचार को लेकर मामले दर्ज हैं। चारा घोटाले से जुड़े मामलों में लालू प्रसाद यादव को दोषी ठहराए जाने के बाद सजा सुनाई गई है।



और भी पढ़ें :