0

Winter Food Tips : सर्दी में दूध में भिगोकर खाएं अंजीर, और पाएं कमाल के 4 फायदे

शुक्रवार,फ़रवरी 11, 2022
0
1
पौराणिक लेख और कई अत्याधुनिक शोधों ने इस बात को प्रमाणित किया है कि सफेद मूसली एक चमत्कारी औषधि है जिसका प्रयोग कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं को ठीक करने में किया जाता है।
1
2
कोरोना वायरस से बचाव के लिए अथक प्रयास किए जा रहे हैं। विशेषज्ञों द्वारा इस पर लगातार शोध कर रहे हैं। अलग-अलग वैरिएंट के अनुसार प्रिकॉशनरी डोज तो अधिक केयर करने की सलाह दी जा रही है। विशेषज्ञों के मुताबिक कमजोर इम्‍युनिटी वालों पर कोविड-19 अधिक तेजी ...
2
3
खसखस का सेवन ठंड के मौसम में बेहद फायदेमंद होता है। सिरदर्द, दिल के लिए, माइग्रेन दर्द, ताकत से राहत के लिए खसखस का सेवन जरूर करें। खसखस का सेवन करने से आपके शरीर में गर्माहट बनी रहती है। जिससे ठंड में इम्युनिटी स्ट्रांग रहती है और फ्लू की चपेट में ...
3
4
अश्वगंधा को आयुर्वेद में अहम स्थान दिया गया है, इसे एक ऐसा चमत्कारी पौधा माना गया है जो कई तरह की बीमारियों को दूर करने में सक्षम है। आइए, जानते हैं आयुर्वेद के अनुसार अश्वगंधा के गुण -
4
4
5
इसके फूल, पत्ते और छाल का उपयोग औषधि के रूप में किया जाता है। यह सारे भारत में पैदा होता है।
5
6
चाय को भारत की नेशनल ड्रिंक के तौर पर जाना जाता है। भारत में चाय हर मर्ज की दवा है। खुशी से लेकर दुखी आदमी के साथ साये की तरह रहती है। फिर इंसान अकेला ही क्‍यों नहीं हो वह चाय जरूर पीता है। यह बात हो गई शौकिया तौर पर चाय पीने की। लेकिन क्‍या आप ...
6
7
भारत में खाने का स्वाद बढ़ाने के लिए मसालों का खास महत्व है। हर मसाला अपने आप में खास और कई तरह के फायदों को समेटे हुए है, फिर चाहे वह केसर हो, इलायची, काली मिर्च या कुछ और। वैसे इस लिस्ट में जावित्री को अनदेखा नहीं किया जा सकता। इस खूबसूरत मसाले ...
7
8
जब तेल गुनगुना हो जाए तो इस तेल से दर्द वाले हिस्सों या जोड़ों की मालिश, जल्द ही दर्द में तेजी से आराम मिलता है, ऐसा दिन में 2 से 3 बार किया जाना चाहिए।
8
8
9
सफेद मूसली के लाभ तो आपने सुने होंगे, लेकिन इसके यह 7 फायदे आप बिल्‍कुल नहीं जानते होंगे, आइए जानें
9
10
भारत में चाय का सेवन से सबसे अधिक किया जाता है। कई बार चाय का नाम लेते ही लोगों को चाय की खुशबू आ जाती है तो कोई ताजगी महसूस करने लगता है। इतना ही नहीं कई लोगों का तो सिरदर्द भी खत्म हो जाता है। चाय का सेवन किसी से मीटिंग के दौरान, रिलैक्स होने पर, ...
10
11
बिल्वपत्र जिसे बेलपत्र का प्रयोग खास तौर से भगवान शिव के पूजन अभिषेक में किया जाता है। लेकिन अगर इसे औषधि के रूप में इस्तेमाल किया जाए तो यह आपकी कई सेहत समस्याओं का बेहतरीन इलाज साबित हो सकता है। यकीन नहीं आता तो बेलपत्र से होने वाले सेहत के इन 5 ...
11
12
पीपल का पेड़ अपनी घनी छांव और ताजा प्राणवायु के लिए जाना जाता है और इसकी पूजा भी की जाती है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि पीपल का पेड़ आपको सेहत से जुड़े लाभ भी देता है? जानिए पीपल के यह 13 सेहत लाभ -
12
13
कई तरह के फलों एवं सब्जियों में पाया जाने वाला एक प्राकृतिक यौगिक शरीर में कोशिकाओं को पहुंचने वाले नुकसान का स्तर कम कर बुढापे से लड़ने में मददगार साबित हो सकता है। वैज्ञानिकों ने एक नए अध्ययन के आधार पर यह बात कही है।
13
14
एक हस्तलिखित पांडुलिपि या किताब इंदौर के रहने वाले साधारण से व्यक्ति नरेंद्र चौहान के पास सुरक्षित है। इस पांडुलिपि या किताब में पांच हजार नहीं बल्कि 84 हजार वर्षों तक जिंदा बने रहने के नुस्खे लिखे हैं।
14
15
आयुर्वेद में हरड़ का काफी महत्व है, इसे हरीतकी भी कहा जाता है । यह न केवल सेहत की समस्याओं के लिए फायदेमंद है, बल्कि इसके सौंदर्य लाभ भी कम नहीं है। इस छोटी सी हरड़ के बड़े सेहत लाभ आपको भी जरूर जानना चाहिए। इसके यह 10 ऐसे नुस्खे जो आपको चौंका देगें ...
15
16
नवदुर्गा, यानि मां दुर्गा के नौ रूप। इन 9 औषधि‍यों में भी विराजते हैं, मां अम्बे के यह नौ रूप, जो समस्त रोगों से बचाकर जगत का कल्याण करते हैं। नवदुर्गा के नौ औषधि स्वरूपों को सर्वप्रथम मार्कण्डेय चिकित्सा पद्धति के रूप में दर्शाया गया और चिकित्सा ...
16
17
आयुर्वेद में स्वास्थ्य संबंधी हर समस्या का इलाज मौजूद है, जो समस्या से राहत ही नहीं देता बल्कि समस्या को जड़ से समाप्त करता है। जानिए 10 ऐसी आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियां, जो आपको बिना किसी साइड इफेक्ट के स्वास्थ्य लाभ देंगी और सेहत समस्याओं से निजात ...
17
18
प्याज भोजन से लेकर सलाद तक का अभिन्न हिस्सा है। हालांकि कई लोग प्याज का सेवन नहीं करते, लेकिन जो लोग करते हैं, उनके लिए तो इसके बगैर खाना बेस्वाद सा होता है। सिर्फ स्वाद के लिए ही प्याज का उपयोग नहीं होता, सेहत के लिए भी यह लाभकारी होता है। गर्मी ...
18
19
सेहत संबंधी कोई भी परेशानी हो, घरेलू नुस्खों के जरिए उन्हें ठीक किया जा सकता है। पुदीना भी इन्हीं घरेलु नुस्खों में से एक है, जिसका महत्व आयुर्वेद में भी बताया गया है। फिलहाल जानिए पुदीने के 16 उपाय, जो सेहत समस्याओं से निजात दिलाए -
19
20
गर्मी के दुष्प्रभाव और सेहत की हर समस्या के लिए बेल का प्रयोग रामबाण है। यह न केवल शरीर में ठंडक पैदा करेगा बल्कि आपको सेहत से जुड़े ऐसे लाभ देगा, जिसके बारे में जानकर आप हैरान रह जाएंगे। गर्मियों में रामबाण है बेल और उसका शर्बत। जानें 7 फायदे -
20
21
भारतीय आयुर्वेद में ऐसे ऐसे नुस्खे हैं जिनसे बड़े से बड़े असाध्य रोगों का भी इलाज संभव है। आज हम आपको बता रहे हैं आयुर्वेद की एक ऐसी अनमोल औषधि के बारे में जो बेहद आसानी से मिलती है लेकिन इस गुणों को जानेंगे तो हैरान रह जाएंगे। इस औषधि के प्रयोग से न ...
21
22
आयुर्वेद में स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों के इलाज मौजूद है। ऐसी चीजें जो हमारे आसपास ही हैं लेकिन हमें उनके बारे में जानकारी नहीं है। प्रस्तुत है 10 ऐसी आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियां जो आपको बिना किसी साइड इफेक्ट के स्वास्थ्य लाभ देंगी।
22
23
. एक चम्मच अलसी के बीजों को अच्छी तरह से चबाकर खाइए और दो गिलास पानी पीजिए। ऐसा प्रतिदिन सुबह खाली पेट और रात को सोने से पहले करना है।
23
24
घर में आम तौर पर ऐसी कई सारी चीजें होती है जिन्हें हम रोजाना मुखवास या मसालों के रूप में उपयोग करते हैं, लेकिन वे मसाले अन्य कई तरह से हमारे लिए उपयोगी एवं लाभकारी होते हैं, जिनकी हमें जानकारी ही नहीं होती .... ऐसी ही एक बेशकीमती चीज है इलायची ...
24
25
आयुर्वेद के अलावा भारत की स्थानीय संस्कृति में कई चमत्कारिक पौधों के बारे में पढ़ने और सुनने को मिलता है। एक ऐसी जड़ी है जिसको खाने से जब तक उसका असर रहता है, तब तक व्यक्ति गायब रहता है।
25
26
मुलहठी जहां शरीर को शक्तिशाली बनाती है, वहीं अन्य कई रोगों में वह लाभकारी हैं। खासकर महिलाओं में होने वाले अनियमित मासिक ऋतुस्राव के लिए तो एक विशेष औषधि के तौर पर प्रयोग की जाती है। आइए जानते हैं मुलेहठी के औषधीय उपाय...
26
27
एक बहुत ही उपयोगी एवं सुपरिचित जड़ी है मुलहठी, जिसे अन्य बोलचाल में मुलेठी भी कहते हैं। यह दो वर्ष तक खराब नहीं होती और विभिन्न नुस्खों में औषधि के रूप में प्रयोग की जाती है।
27
28
सफेद मूसली सदियों से हमारे देश में बल पुष्टिकारक के तौर पर जानी जाती है। चीनी जड़ी जिंसेंग की तुलना में सफेद मूसली अधिक गुणकारी है। स्थानीय जड़ी होने के कारण सफेद मूसली जिंसेंग की तुलना में बहुत सस्ती है।
28
29
हमारे देश में लहसुन रसोई का अनिवार्य हिस्सा रहा है। इसे चटनी से लेकर बघार तक सभी तरह से इस्तेमाल किया जाता है। तामसिक खाद्य पदार्थ होने के बावजूद इसके औषधियों गुणों के कारण यह आयुर्वेदिक चिकित्सकों का प्रिय है।
29
30
पारंपरिक चिकित्सा पद्धतियों में देसी नुस्खे सबसे कारगर माने जाते हैं। अधिकांश नुस्खों में किचन में इस्तेमाल हो रहे मसालों से इलाज की सलाह दी जाती है। ये न तो बहुत मंहगे होते हैं और न इनके साइड इफेक्ट्स।
30
31
मिर्गी का दौरा मरीज की जिंदगी तबाह कर देता है। मरीज के कारण परिवार को आर्थिक संकट के साथ सामाजिक मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में डीप ब्रेन स्टिम्युलेशन थेरेपी एक चमत्कार के तौर पर सामने आई है।
31
32
बाजार में मिल रहे कई दर्दनिवारक तेलों की अपेक्षा आदिवासियों द्वारा सदियों से आजमाए जा रहे इस नुस्खे को भी आजमा कर देखें।
32