मंगलवार, 2 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. लाइफ स्‍टाइल
  2. सेहत
  3. जडी-बूटियाँ
  4. गुनगुने पानी में एक चम्मच डालकर ये पी लें, पेट हो जाएगा एकदम साफ
Written By WD Feature Desk
Last Updated : गुरुवार, 22 फ़रवरी 2024 (18:24 IST)

गुनगुने पानी में एक चम्मच डालकर ये पी लें, पेट हो जाएगा एकदम साफ

Home remedy for constipation| गुनगुने पानी में एक चम्मच डालकर ये पी लें, पेट हो जाएगा एकदम साफ
Home remedy for constipation
Home remedy for kabz: आजकल कब्ज की समस्या अधिकतर लोगों को होने लगी है। कब्ज के कारण एसिडिटी, गैस, ब्लोटिंग, अफरा आदि भी कई लोगों को होता है। ज्यादा समय तक कब्ज के रहने से कई तरह के गंभीर रोग भी हो सकते है। पेट साफ नहीं होने के कब्ज के अलावा और भी कई कारण होते हैं। आपके लिए यहां पर 3 उपाय बताए जा रहे हैं जिसमें से कोई एक उपाय करना है। हालांकि इसके लिए पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें।
1. कब्ज का पहला उपाय : एक गिलास गुनगुने पानी में एक चम्मच अरंडी का तेल मिलाकर पी लें।
 
2. कब्ज का दूसरा उपाय : एक गिलास गुनगुने पानी में एक चम्मच पीसी हुई बाल हरण और आधा चम्मच अजवाइन मिलाकर पी जाएं।
 
3. कब्ज का तीसरा उपाय : एक गिलास गुनगुने पानी में एक चम्मच देसी घी मिलाकर एक ही बार में पी लें।
 
ये उपाय भी आजमाएं:- खाने से पहले अंजीर, हरी सब्जी या धनिया का जूस या आधी मुठ्ठी किशमिश का सेवन करने के बाद ही भोजन करें।
castor oil
castor oil
Home remedy for constipation: उपरोक्त में से किसी भी एक उपाय को करने से कुछ घंटों में ही पेट नरम पड़ेगा और जोर से प्रेशर आएगा। एक ही बार में पेट पूरा साफ हो जाएगा। यदि कांसेपशियन यानी कब्ज पुरानी है तो यह उपाय कम से कम एक हफ्ते तक आजमाएं। दादी नानी का यह घरेलू नुस्खा आज भी कारगर माना जाता है। इससे न केवल पेट साफ होता है बल्कि आंखों की ज्योति भी बढ़ती है। इसे चेहरे की त्वचा भी साफ होती है।
अस्वीकरण (Disclaimer) : चिकित्सा, स्वास्थ्य संबंधी नुस्खे, योग, धर्म, ज्योतिष, इतिहास, पुराण आदि विषयों पर वेबदुनिया में प्रकाशित/प्रसारित वीडियो, आलेख एवं समाचार सिर्फ आपकी जानकारी के लिए हैं, जो विभिन्न सोर्स से लिए जाते हैं। इनसे संबंधित सत्यता की पुष्टि वेबदुनिया नहीं करता है। सेहत या ज्योतिष संबंधी किसी भी प्रयोग से पहले विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें। इस कंटेन को जनरुचि को ध्यान में रखकर यहां प्रस्तुत किया गया है जिसका कोई भी वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है।