उमा भारती ने नौकरशाही पर अपने विवादित बयान पर दी सफाई

पुनः संशोधित सोमवार, 20 सितम्बर 2021 (23:54 IST)
नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी की वरिष्ठ नेता, पूर्व केन्द्रीय मंत्री एवं मध्य प्रदेश की मुख्यमंत्री रहीं उमा भारती ने अपने के बचाव में कहा है कि ईमानदार नौकरशाही सत्ता में बैठे हुए मजबूत, सच्चे एवं नेक इरादे वाले नेता का साथ देती हैं।
सुश्री भारती ने सोमवार को कर कहा, बीते शनिवार को भोपाल में मेरे निवास पर पिछड़े वर्गों का एक प्रतिनिधिमंडल मुझसे मिला। यह मुलाकात औपचारिक नहीं थी। उस पूरी बातचीत का वीडियो मीडिया में वायरल हुआ है।

उन्होंने कहा, मैं मीडिया की आभारी हूं कि उन्होंने मेरा पूरा ही वीडियो दिखा दिया। दरअसल मै नौकरशाही के बचाव में ही बोल रही थी। हम नेताओं में से कुछ सत्ता में बैठे निक्कमे नेता अपने निकम्मेपन से बचने के लिए नौकरशाहों की आड़ ले लेते हैं, जबकि सच्चाई यह है कि नौकरशाह अच्छे नेताओं का हमेशा साथ देते हैं। यही मेरा अनुभव है।

सुश्री भारती ने कहा, मुझे रंज हैं कि मैंने असंयत भाषा का प्रयोग किया, जबकि मेरे भाव अच्छे थे। मैंने आज से यह सबक़ सीखा कि सीमित लोगों के बीच अनौपचारिक बातचीत में भी संयत भाषा का प्रयोग करना चाहिए।(वार्ता)



और भी पढ़ें :