आज अपने पापों से मर रही है कांग्रेस, शिवराज सिंह चौहान का बड़ा हमला

भोपाल। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पर बड़ा हमला बोला है। शिवराज का कहना है कि आज कांग्रेस अगर मर रही है तो अपने पापों से ही मर रही है। प्रदेश भाजपा कार्यालय में भारतीय जनता युवा मोर्चा के सदस्यता अभियान को संबोधित करते हुए शिवराज ने कांग्रेस में अध्यक्ष नहीं होने पर तंज कसते हुए कहा कि कांग्रेस के डूबने के लिए उसके खुद के किए गए पाप जिम्मेदार हैं।
शिवराज ने कहा कि आजादी के बाद गांधीजी कांग्रेस को खत्म करने के पक्ष में थे, लेकिन सत्ता के लालच में पंडित जवाहर लाल नेहरू ने उसे एक राजनीतिक पार्टी बना दिया और नेहरू की सत्ता के लालच के चलते ही आज कश्मीर समस्या है। इसके साथ ही चीन ने जिस तरह बड़े भूभाग पर कब्जा कर रखा है उसके लिए भी नेहरू की नीतियां जिम्मेदार हैं।

शिवराज ने कहा कि भाजपा को भगवान का वरदान प्राप्त है जिसके चलते अटल, आडवाणी के बाद अब पार्टी को मोदीजी का नेतृत्व मिला है। इस मौके पर उन्होंने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि एक तरफ भाजपा में नेतृत्व की कोई कमी नहीं है, वहीं कांग्रेस में आज एक अदद अध्यक्ष भी नहीं है, कांग्रेस एक खानदान की गुलाम रहने वाली पार्टी बनकर रह गई है।

बैठक में सोनिया गांधी और राहुल पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि किस तरह मां-बेटे की जोड़ी ने मनमोहन सिंह को पिंजरे का पंछी बना दिया था, यह सभी ने देखा। कार्यक्रम में शिवराज ने अपने मुख्यमंत्री रहते हुए चीन दौरे का जिक्र करते हुए कहा कि जब वे चीन के निवेशकों से बात करने गए तो उन्होंने निवेश करने से सिर्फ इसलिए इंकार कर दिया क्योंकि उस वक्त देश में भष्टाचार का बोलबाला था।

खुद का उदाहरण देते हुए उन्‍होंने कहा कि वे भी जब किसी काम से मनमोहन सिंह के पास जाते थे तो वे हाईकमान का हवाला देकर टाल देते। वहीं राहुल गांधी के पद से इस्तीफे पर तंज कसते हुए उन्‍होंने कहा कि जहाज डूबने पर कैप्टन सबसे अंत तक जहाज बचाने की कोशिश करता है, लेकिन राहुल गांधी सबसे पहले छोड़कर भाग खड़े हुए। उन्होंने कहा कि हार के बाद और मजबूती के साथ पार्टी के साथ आना चाहिए, लेकिन राहुल गांधी भाग खड़े हुए।

 

और भी पढ़ें :