मंगलवार, 23 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. राष्ट्रीय
  4. Shahjahan Sheikh in 10 days police remand
Last Updated : गुरुवार, 29 फ़रवरी 2024 (11:52 IST)

शाहजहां शेख 10 दिन की पुलिस रिमांड में, शुभेंदु अधिकारी ने बताया छोटा दाऊद

शेख पर है महिलाओं के यौन शोषण और जमीन पर कब्जे का आरोप

Shahjahan Sheikh
Shahajahan Sheikh arrested : पश्चिम बंगाल के संदेशखाली (Sandeshkhali) में महिलाओं के यौन उत्पीड़न और जमीन हड़पने के आरोपी तृणमूल कांग्रेस के नेता शाहजहां शेख (Shahjahan Sheikh) को 55 दिन बाद गिरफ्तार कर लिया। बशीरघाट कोर्ट ने उसे 10 दिन की पुलिस रिमांड (police remand) पर भेज दिया। इस बीच भाजपा नेता शुभेंदु अधिकारी (Shubhendu Adhikari) ने शाहजहां शेख को छोटा दाऊद करार दिया।  उन्होंने कहा कि जनता के रोष, मीडिया की मेहनत, बीजेपी की लड़ाई और संदेशखाली की महिलाओं की लड़ाई से शाहजहां शेख की गिरफ्तारी हुई है।

 
उत्तर 24 परगना जिले से गिरफ्तार किया : शेख को बंगाल पुलिस ने उत्तर 24 परगना जिले के संदेशखालि से लगभग 30 किलोमीटर दूर मिनाखान में एक घर से गिरफ्तार किया गया। शेख कुछ साथियों के साथ उस घर में छिपा था। गिरफ्तार करने के बाद उसे बशीरहाट अदालत ले जाया गया। पुलिस ने 14 दिन रिमांड मांगी लेकिन उसे 10 दिन के लिए रिमांड पर पुलिस को सौंप दिया।

 
इससे पहले कलकत्ता उच्च न्यायालय के बुधवार को कहा था कि केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (CBI), प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) या पश्चिम बंगाल पुलिस शेख को गिरफ्तार कर सकती है। इसके 24 घंटे के भीतर ही शेख को हिरासत में ले लिया गया।
 
यह बोले राज्यपाल सी.वी. आनंद बोस : राज्यपाल सी.वी. आनंद बोस ने शेख की गिरफ्तारी के लिए सोमवार रात राज्य सरकार को 72 घंटे की समयसीमा दी थी। उन्होंने कहा कि अंधकार के बाद उजाला जरूर होता है। मैं इसका स्वागत करता हूं। एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि शेख का पता उसके मोबाइल फोन की लोकेशन से चला। वह समय-समय पर अपना स्थान बदल रहा था। उसके मोबाइल फोन के टावर की लोकेशन से उसका पता लगाया गया।
 
भारी पुलिस बल तैनात : पुलिस ने कहा कि कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए कोलकाता से लगभग 65 किलोमीटर दूर बशीरहाट अदालत में भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। हालात को नियंत्रित करने के लिए संदेशखाली के कुछ हिस्सों में अतिरिक्त बल भी तैनात किया गया है।

 
शेख पर महिलाओं पर अत्याचार और जमीन पर कब्जे आरोप: इससे पहले शेख के करीबी सहयोगी शिवप्रसाद हाजरा और उत्तम सरदार को गिरफ्तार किया जा चुका है। इसके अलावा, उसके एक अन्य सहयोगी अजीत मैती को भी जमीन हड़पने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। पुलिस ने बताया कि ज्यादातर शिकायतकर्ताओं ने दावा किया कि शाहजहां ने लोगों की जमीन पर कब्जा कर लिया और इलाके की महिलाओं पर अत्याचार किया।
 
पश्चिम बंगाल के उत्तर 24 परगना जिले के संदेशखालि में 5  जनवरी को लगभग 1,000 लोगों की भीड़ ने ईडी के अधिकारियों पर उस वक्त हमला कर दिया था, जब वे राज्य में कथित राशन वितरण घोटाले की जांच के सिलसिले में शेख के परिसर पर छापेमारी के लिए गए थे।
 
Edited by: Ravindra Gupta
ये भी पढ़ें
हिमाचल में कांग्रेस के 6 बागी विधायकों की सदस्यता रद्द, किया था पार्टी व्हिप का उल्लंघन