मालाबार 2020 का दूसरा चरण मंगलवार से, भारत-अमेरिकी नौसेना के विमानवाहक पोत भी हिस्सा लेंगे

Last Updated: सोमवार, 16 नवंबर 2020 (17:51 IST)
Malabar 2020
नई दिल्ली। भारत, ऑस्ट्रेलिया, और अमेरिका की नौसेनाओं के बीच 4 दिन के (Malabar 2020) का दूसरा चरण (Second phase) मंगलवार से शुरू होगा। इस अभ्यास का पहला चरण गत 3 से 6 नवम्बर तक हुआ था। मालाबार के दूसरे चरण में भारतीय नौसेना (Indian Navy) और अमेरिकी नौसेना (US Navy) दोनों के विमानवाहक पोत भी हिस्सा लेंगे।
सबसे पहले अमेरिका के साथ 1992 में शुरू हुए मालाबार अभ्यास में पहले जापान और फिर अब ऑस्ट्रेलियाई नौसेना भी शामिल हो गई है। यह पहला मौका है जब ऑस्ट्रेलियाई नौसेना भी अभ्यास में अपने अनुभव साझा करेगी। दूसरे चरण में चारों देशों की नौसेना पहले चरण के परस्पर तालमेल को आगे बढाते हुए अपने जौहर तथा रणकौशल दिखाएगी।
दूसरे चरण के संयुक्त अभ्यास भारत के विमानवाहक पोत विक्रमादित्य और अमेरिकी नौसेना के विमानवाहक पोत निमिट्ज कैरियर को केन्द्र में रखकर किये जाएंगें। दोनों विमानवाहक पोत अन्य युद्धपोतों, पनडुब्बियों तथा विमानों के साथ बड़े नौसेन्य अभियान में हिस्सा लेंगे।
इस दौरान इन विमानवाहक पोतों पर तैनात लड़ाकू विमान क्रास डेक उडान भरेंगे। इन विमानों में मिग 29 के और एफ-18 शामिल होंगे। इसके अलावा पनडुब्बियां भी अपनी ताकत का प्रदर्शन करेंगी। भारतीय नौसेना के स्वदेशी विध्वंसक युद्धपोतों में कोलकाता तथा चेन्नई श्रेणी के युद्धपोत, फ्रिगेट तलवार और हेलिकॉप्टर भी हिस्सा लेंगे।



और भी पढ़ें :