नवाब मलिक-समीर वानखेड़े विवाद में रामदास अठावले की एंट्री, कहा- पिक्चर में मेरा रोल बाकी...

पुनः संशोधित रविवार, 31 अक्टूबर 2021 (13:00 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। महाराष्ट्र सरकार में मंत्री और एनसीबी के झोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े के बीच आर्यन ड्रग्स मामले में घमासान के मामले में अब केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले की एंट्री हो गई है। अठावले ने समीर वानखेड़े के परिजनों से मुलाकात में इस दलित अधिकारी का समर्थन किया और कहा कि पिक्चर में मेरा रोल बाकी है।


समीर वानखेड़े की पत्नी कीर्ति रेडकर ने कहा कि हम आज यहां अठावले से मिलने आए हैं, उन्होंने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि वह (मलिक) एक दलित की सीट छीन रहे हैं। अठावले हमारे साथ खड़े हैं क्योंकि उन्हें हर दलित की परवाह है। अब तक नवाब मलिक के सभी आरोप झूठ साबित हुए हैं।

नवाब मलिक आरोपों पर कायम : नवाब मलिक अभी भी समीर वानखेड़े पर लगाए गए अपने आरोपों पर कायम हैं। उन्होंने फिर एक बार कहा कि समीर वानखेड़े फर्जी एससी प्रमाणपत्र के सहारे अपने पद पर हैं। उन्होंने एक गरीब एससी के अधिकार छीन लिए।
उन्होंने कहा कि धोखे के खिलाफ लड़ो, धर्म और जाति के लिए नहीं। मैं राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के उपाध्यक्ष अरुण हलदार से अपने पद की गरिमा बनाए रखने का आग्रह करता हूं।

मलिक के अनुसार, कुछ लोगों ने कहा कि ड्रग्स से संबंधित मामले में पैसे, गुंडे शामिल हैं और मैं अपनी जान गंवा सकता हूं। मुझे चुप कराने की कोशिश की गई। लेकिन मैंने कहा था कि हम इसे तार्किक अंत तक ले जाएंगे। अगर कोई कहता है कि वे नवाब मलिक को मार देंगे, तो मैं उसी दिन मर जाऊंगा।
उल्लेखनीय है कि नवाब मलिक आर्यन खान ड्रग्स मामले को लेकर लगातार समीर वानखेड़े पर हमले कर रहे हैं। उन्होंने समीर पर फर्जी दस्तावेजों से नौकरी हासिल करने समेत कई गंभीर आरोप लगाए हैं।




और भी पढ़ें :