तेजस ने बढ़ाया रेलवे का उत्साह, अब 150 train, 50 stations निजी हाथों में सौंपे जाएंगे

पुनः संशोधित गुरुवार, 10 अक्टूबर 2019 (09:25 IST)
नई दिल्ली। देश के पहली निजी तेजस के सफल संचालन से उत्साहित मोदी सरकार अब रेलवे की निजीकरण की तैयारी कर रही है। सरकार अब 150 ट्रेनों और 50 स्टेशनों को निजी हाथों में सौंपने की तैयारी में है। हाल में यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ से दिल्ली तक चलने वाली पहली निजी ट्रेन को हरी झंडी दिखाई थी।
नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ कांत द्वारा रेलवे बोर्ड चेयरमैन विनोद कुमार यादव को लिखे पत्र से इस योजना का पता चला है। पत्र में उन्होंने लिखा है कि रेल मंत्रालय ने पैसेंजर ट्रेनों के संचालन के लिए निजी ट्रेन ऑपरेटरों का लाने का फैसला किया है और पहले चरण में 150 ट्रेनों को इसके तहत लेने का विचार कर रहा है।
प्रोजेक्ट पर अमल के लिए सचिव स्तर के एम्पावर्ड ग्रुप को जिम्मेदारी सौंपी गई है। इसमें
नीति आयोग के सीईओ, रेलवे बोर्ड चेयरमैन, इकॉनोमिक अफेयर डिपार्टमेंट के सचिव, मिनिस्ट्री ऑफ हाउसिंग एंड अरबन अफेयर के सचिव के साथ रेलवे बोर्ड के सदस्य इंजीनियरिंग और रेलवे बोर्ड सदस्य ट्रैफिक को भी शामिल किया गया है।

 

और भी पढ़ें :