डॉक्‍टर से बनीं IAS अफसर, दो बार हो चुकी थी UPSC में फेल

apala Mishra
मेहनत का कोई विकल्‍प नहीं होता। कुछ ऐसा ही कर दिखाया है दिल्‍ली की डेंटि‍स्‍ट ने। वैसे यूपीएससी सिविल सेवा में टॉपर्स की सूची में इंजीनियर्स का दबदबा कायम है, लेकिन दिल्‍ली की डॉ अपाला मिश्रा ने डेंटल सर्जरी की डिग्री के साथ यूपीएससी में 9वां स्थान हासिल किया है।

अपाला मिश्रा ने इंटरीव्‍यू में उच्चतम अंक (215) भी प्राप्त किए। दरअसल, यूपीएससी इंटरव्यू 275 मार्क्स का होता है।

अपाला अपनी सफलता का श्रेय सेल्फ स्टडी को देती है। हालांकि इससे पहले वह दो बार यूपीएससी प्रिलिम्स परीक्षा में फेल हो चुकी, लेकिन उन्होंने हिम्मत नहीं हारी और अपने मेहनत के दम में यूपीएससी की परीक्षा पास कर दिखाई।

एक न्यूज वेबसाइट को उन्होंने बताया, मैं अपने शुरुआती दो प्रयासों में अच्छी तरह से तैयार नहीं थी और इसलिए, प्रीलिम्स को पास नहीं कर सकी,

लेकिन इस बार मैंने पूरी लगन से मेहनत की। मेरा मानना ​​​​है कि अगर कोई कड़ी मेहनत और समर्पित है, तो कुछ भी हासिल करना संभव है।

तैयारी के बारे में बात करते हुए, मिश्रा ने कहा कि वह हर दिन लगभग 7 से 8 घंटे पढ़ाई करती थी और प्रत्येक विषय पर बिताए गए समय की निगरानी के लिए एक टाइमर का उपयोग करती थी। बेसिक किताबों का इस्तेमाल किया, इसी के साथ,

ऑनलाइन पढ़ाई करने के लिए गूगल और यूट्यूब का इस्तेमाल किया।

सैन्य कर्मियों के परिवार में, अपाला प्रशासनिक सेवाओं में प्रवेश करने वाली पहली सदस्य है। उनके पिता सेना से सेवानिवृत्त कर्नल हैं और उनकी मां दिल्ली विश्वविद्यालय में प्रोफेसर हैं। उसका भाई मेजर के पद पर भारतीय सेना में सेवारत है।



और भी पढ़ें :