मध्यप्रदेश में बांग्लादेशी घुसपैठियों के खिलाफ चलेगा ऑपरेशन, इंदौर सेक्स रैकेट के खुलासे के बाद गृहमंत्री का एलान

फर्जी आधार कार्ड और पासपोर्ट बनाने वालों के खिलाफ अभियाान चलाकर होगी कार्रवाई

Author विकास सिंह| पुनः संशोधित शुक्रवार, 26 नवंबर 2021 (12:50 IST)
भोपाल। इंदौर के अंतरराष्ट्रीय सेक्स रैकेट के खुलासे पर अब सरकार एक्शन में दिखाई दे रही है। पूरे मामले के मुख्य आरोपी के बांग्लादेश से तार जुड़ने के बाद अब सरकार पूरे प्रदेश में अवैध बांग्लादेशी घुसपैठियों के खिलाफ चलाने का फैसला किया है। वहीं फर्जी तरीके से आधार कार्ड और पासपोर्ट बनाने वालों के खिलाप अभियान चलाकर कार्रवाई की जाएगी।



इस पूरे मामले पर गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि बांग्लादेशी निवासी मामून खान नाम का व्यक्ति हिन्दू नाम विजय दत्त रखकर सेक्स रैकेट चला रहा था। जिस पर कड़ी कार्रवाई की जा रही है। गृहमंत्री ने कहा कि ह्यूमन टैफिकिंग के मामले को लेकर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

वहीं आरोपियों के पास से नकली पासपोर्ट मिलने के मामले में अब पूरे प्रदेश में फर्जी आधार कार्ड और पासपोर्ट बनाने वालों के खिलाफ सर्चिंग ऑपरेशन शुरु किया जाएगा। इसके साथ ही प्रदेश में रह रहे बांग्लादेशी घुसपैठियों के खिलाफ भी सर्च ऑपरेशन चला कर उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

वहीं गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने नाम बदलकर आरोपी के रहने वाले मामले विरोधियों पर तंज कसते हुए कहा कि इंदौर में चूड़ी बेचने वाली घटना पर विलाप करने वाले बेटियों के साथ खिलवाड़ करने वालों पर आज मौन है।

क्या है पूरा मामला- इंदौर के विजयनगर पुलिस ने अंतरराष्ट्रीय सेक्स रैकेट का खुलासा करते हुए पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया था। पुलिस की जांच में खुलासा हुआ था कि आरोपी बांग्लादेश से लड़कियों को लाकर उन्हें देह व्यापार करवाते थे। पुलिस ने गिरोह के सरगना विजय दत्त उर्फ मामून खान को गिरफ्तार किया था। जिसमें पिछले आठ महीने में 90 लाख के ट्रांजेक्शन का पता चला था।




और भी पढ़ें :