मध्यप्रदेश में पेट्रोल के शतक पर सियासत,कांग्रेस ने 20 फरवरी को प्रदेश बंद का किया आव्हान

Author विकास सिंह| Last Updated: सोमवार, 15 फ़रवरी 2021 (20:53 IST)

भोपाल। के लोगों पर महंगाई की दोहरी मार पड़ी है। प्रदेश में पहले ही पेट्रोल 100 रुपए प्रति लीटर पार पहुंच चुका है वहीं आज से प्रदेश में रसोई गैस का सिलेंडर 50 रुपए महंगा हो गया है। प्रदेश की राजधानी भोपाल में आज सादा पेट्रोल 96.93 रुपए लीटर बिक रहा है तो प्रीमियम पेट्रोल 100 रुपए के पार पहुंच कर 100.61 पैसा बिक रहा है। मध्यप्रदेश देश का एक मात्र ऐसा राज्य है जहां पेट्रोल 100 रुपए प्रति लीटर से उपर बिक रहा है।
वहीं अब रिकॉर्डतोड़ महंगाई की सियासत भी शुरु हो गई है। राज्य में मुख्य विपक्षी दल ने 20 फरवरी को प्रदेश में आधे दिन के प्रदेशव्यापी बंद का आव्हान किया है। मध्यप्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने ट्वीट कर बंद का आव्हान करते हुए “पेट्रोल-डीज़ल के व रसोई गैस के दामों में हो रही बेतहाशा वृद्धि के विरोधस्वरुप ,जनता को राहत प्रदान करने की मांग व भाजपा सरकार को कुंभकर्णीय नींद से जगाने को लेकर मध्यप्रदेश में कांग्रेस 20 फरवरी को जनता से स्वेच्छा से आधे दिन के प्रदेश बंद का आव्हान करती है”।
इसके साथ ही कमलनाथ ने टैक्स को लेकर मध्यप्रदेश सरकार पर निशाना साधते हुए लिखा कि “जनता निरंतर करो में कमी कर राहत प्रदान करने की माँग कर रही है लेकिन भाजपा सरकार तानाशाही रवैया अपनाते हुए किसी भी प्रकार की राहत प्रदान नहीं कर रही है। कांग्रेस जनता के साथ सदैव खड़ी है, जनता के हित के लिये हम सदैव संघर्षरत है और रहेंगे”।
सपाक्स भी देगी धरना- दूसरी ओर सपाक्स पार्टी ने भी 17 फरवरी को पूरे प्रदेश ममें महंगाई के विरोध में सड़क पर उतरकर धरना प्रदर्शन का एलान किया है। पार्टी ने पूरे प्रदेश पर महंगाई के खिलाफ जिला मुख्यालय पर प्रदर्शन करने और कलेक्टर को ज्ञापन सौंपने का निर्णय लिया है।
पेट्रोल पंप संचालकों ने भी दखल देने की मांग-पिछले एक साल में पेट्रोल के दाम जिस तरह हर दिन एक नई ऊंचाई पर पहुंचकर रिकॉर्ड बनाते जा रहे है उससे अब आम लोगों के साथ- साथ पेट्रोल पंप संचालकों ने भी सरकार से पेट्रोल के दाम करने में सीधा दखल देने की मांग की है। मध्यप्रदेश पेट्रोल पंप डीलर्स एसोसिएशन ने राज्य सरकार से बजट में पेट्रोल और डीजल पर तुरंत टैक्स को कम करने की मांग की है।



और भी पढ़ें :