शुक्रवार, 27 जनवरी 2023
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. मध्यप्रदेश
  4. High alert in Madhya Pradesh after PFI ban
Written By Author विकास सिंह
Last Updated: गुरुवार, 29 सितम्बर 2022 (14:51 IST)

PFI पर बैन के बाद मध्यप्रदेश में हाईअलर्ट, त्योहारों के दौरान बड़ी साजिश रचने की आशंका

भोपाल। कट्टरपंथी संगठन पीएफआई पर केंद्र सरकार के बैन लगाने के बाद मध्यप्रदेश में पुलिस मुख्यालय ने अलर्ट जारी किया है। पुलिस मुख्यालय ने भोपाल और इंदौर के पीएफआई की सक्रियता वाले मालवा के कई जिलों के एसपी को अलर्ट रहने के निर्देश दिए है। पुलिस मुख्यालय की ओर से जारी अलर्ट में त्योहारों के देखते हुए विशेष सावधानी बरतने के निर्देश दिए गए हैं। अलर्ट में दुर्गापूजा के साथ-साथ गरबा और दशहरा के पर्व के दौरान अतिरिक्त चौकसी बरतने के निर्देश दिए गए हैं।
 
वहीं गृह विभाग ने इंदौर एवं भोपाल के पुलिस कमिश्नर और जिलों के पुलिस अधिकारियों को पॉपुलर फ़्रंट ऑफ इंडिया एवं सहयोगी संगठनों के विरुद्ध यूएपीए के तहत कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं। अपर मुख्य सचिव गृह डॉ. राजेश राजौरा के मुताबिक केन्द्र सरकार ने पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया और इसके सहयोगी संगठन रिहैब इंडिया फाउंडेशन (आरआईएफ), कैंपस फ्रंट ऑफ इंडिया (सीएफआई), ऑल इंडिया इमाम्स काउंसिल (एआईआईसी), नेशनल कन्फेडरेशन ऑफ ह्यूमन राइट्स ऑर्गेनाइजेशन,नेशनल विमेन फ्रंट, जूनियर फ्रंट, एंपावर इंडिया फाउंडेशन तथा रिहैब फाउंडेशन केरल को UAPA के अंतर्गत प्रतिबंधित कर दिया हैं और अब प्रदेश में भी पीएफआई और उसके सहयोगी संगठनों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए है।
 
कॉलिंग एप के जरिए करते थे बात-वहीं इंदौर से गिरफ्तार पापुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के नेताओं से पूछताछ में खुलासा हुआ है कि संगठन के सदस्य बातचीत के लिए एप का उपयोग करते थे। खास बात यह है कि इन एप से होने वाली बातचीत सुरक्षा एजेंसियों के राडार में नहीं आ पाती थी। आरोपियों से पूछताछ के बाद अब एजेंसियां आरोपियों की कॉल डिटेल, चैटिंग और एप की जांच करने के साथ फॉरेसिंक मदद ले रही है। सबूत के तौर पर पुलिस ने उनके पास से दस्तावेज, मोबाइल, लैपटॉप और इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस जब्त किया है।

कई जिलों में PFI के दफ्तर सील- वहीं पीएफआई पर बैन के बाद अब उसके और अन्य सहयोगी संगठनों के  दफ्तरों को सील करने की कार्रवाई शुरु कर दी है। भोपाल, इंदौर समेत कई शहरों में पीएफआई के दफ्तरों को सील कर दिया गया। राजधानी भोपाल के पठार वाली गली में  पीएफआई के बैन किए गए सहयोगी संगठन के दफ्तर को सील कर दिया गया। 

वहीं मध्यप्रदेश के 8 जिलों में PFI के गिरफ्तार किए गए 21 सदस्यों से  को जेल भेज दिया गया है। जेल भेजे गए पीएफआई के सदस्यों को इंदौर, उज्जैन, शाजापुर, राजगढ़, गुना, श्योपुर,  नीमच में छापेमारी कर गिरफ्तार किया गया था। 
 
 
ये भी पढ़ें
मिर्गी की सटीक पहचान के लिए मिला एक नया एल्गोरिदम