शिवराज की बड़ी घोषणा: 88 लाख घरेलू उपभोक्ताओं का कोरोना काल का बकाया बिजली बिल माफ, डिफॉल्टर किसानों के लिए भी बड़ा एलान

Author विकास सिंह| पुनः संशोधित सोमवार, 14 मार्च 2022 (15:55 IST)
हमें फॉलो करें
भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज विधानसभा में राज्यपाल के बजट अभिभाषण पर धन्यवाद व्यक्त करते हुए एक साथ कई बड़े एलान किए। मुख्यमंत्री ने सदन में प्रदेश में 88 लाख बिजली उपभोक्ताओं के 6400 करोड़ रूपए का बिजली का बिल माफ करने का एलान किया है। इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसे 48 लाख उपभोक्ता जिन्होंने कोरोनाकाल का अपना बिजली का बिल जमा कर दिया था उनका समाधान योजना के माफ करने के साथ जमा राशि को आने वाले बिलों में एडजस्ट की जाएगी।

राज्यपाल के बजट अभिभाषण पर करीब दो घंटे के अपने भाषण में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सरकार का पक्ष रखते हुए कई बड़ी घोषणाएं की और सरकार की उपलब्धि गिनाई। अपने वक्तव्य में मुख्यमंत्री ने कहा कोरोना काल के बकाया बिजली बिल के कारण दिक्कत हो रही है इसलिए सरकार ने 88 लाख घरेलु उपभोक्ताओं का लगभग 6 हजार 400 करोड़ रुपया माफ कर दिया जाएगा। कोरोना काल के बकाया बिजली के बिलों की अब वसूली नहीं होगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि करीब 48 लाख उपभोक्ताओं ने समाधान योजना के अंतर्गत 189 करोड़ रुपया जमा किया था। सरकार ने उनको भी राहत देते हुए यह फैसला किया है कि जो पैसा जमा किया गया है उसको आगे के बिलों में समायोजित कर दिया जाएगा।

डिफॉल्टर किसानों के लिए बड़ा एलान-
इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने सदन में कहा कि डिफॉल्टर किसानों के लिए बड़ा एलान करते हुए कहा कि कर्ज माफी के चक्कर में बहुत से किसानों ने पैसा नहीं भरा और वो डिफॉल्टर हो गए। ऐसे डिफॉल्टर किसानों के कर्ज पर लगने वाले ब्याज को सरकार भरेगी।



इसके साथ मुख्यमंत्री ने कहा कि में विधायक निधि को 2 करोड़ से बढ़ाकर 3 करोड़ रुपए किया जा रहा। इसके साथ मुख्यमंत्री ने घोषणा की मुख्यमंत्री कन्यादान और संबल योजना को फिर से शुरु किया जाएगा। वहीं लाडली लक्ष्मी योजना को रीडिजाइन करके फिर से लॉन्च किया जाएगा।




और भी पढ़ें :