भीम आर्मी के चंद्रशेखर ने कहा- मैं नहीं मिलना चाहता था प्रियंका गांधी से

मेरठ| पुनः संशोधित गुरुवार, 14 मार्च 2019 (14:18 IST)
मेरठ। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा से मुलाकात और एकांत में बातचीत के बाद भीम आर्मी प्रमुख आजाद ने गुरुवार को उन तमाम राजनीतिक अटकलों को यह कह कर विराम लगा दिया कि उनका कांग्रेस से कुछ लेना-देना नहीं है।
उन्होंने बातचीत में कहा कि बुधवार को सुश्री वाड्रा से मिलने का मैं इच्छुक नहीं था, लेकिन बाद में औपचारिकता के नाते उनसे मुलाकात की। उन्होंने कहा कि कांग्रेस महासचिव जब उनसे मिलीं तो यही लग रहा था कि वह एक मरीज का हालचाल पूछने आई हैं।

भीम आर्मी प्रमुख ने बताया कि प्रियंका ने उनसे मुलाकात के दौरान राजनीति पर चर्चा नहीं की। चंद्रशेखर ने फिर कहा कि वह समाजवादी पार्टी (सपा) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के गठबंधन के साथ हैं और मौका मिला तो वाराणसी सीट से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे।
गौरतलब है कि बुधवार शाम सुश्री वाड्रा, पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया और पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर ने मेरठ के आनंद अस्पताल में भर्ती चंद्रशेखर से मुलाकात की थी। मुलाकात के बाद प्रियंका ने संवाददाताओं से बातचीत में उत्तर प्रदेश सरकार पर युवाओं की आवाज दबाने का आरोप लगाया था। (वार्ता)

 

और भी पढ़ें :