'विराट के वीरों' की नजरें अब 5-0 के 'क्लीन स्वीप' पर

वेबदुनिया न्यूज डेस्क| Last Updated: शनिवार, 1 फ़रवरी 2020 (19:21 IST)
माउंट मौंगानुई। भारत और न्यूजीलैंड के बीच 5टी20 मैचों की सीरीज का आखिरी मैच रविवार को बे ओवल पर दोपहर 12.20 बजे से शुरू होगा। सीरीज में 4-0 की बढ़त के साथ विराट के वीरों के हौंसले बुलंद हैं और वे 5-0 के 'क्लीन स्वीप' के साथ इसका समापन करने के लिए बेताब भी हैं।

भारत ने पहला टी20 मैच 6 विकेट से, दूसरा टी20 मैच 7 विकेट से और तीसरा व चौथा मैच 'सुपर ओवर' में जीता था। पांचवां मैच न्यूजीलैंड के नियमित कप्तान के गृहनगर में है लेकिन उनके कंधे में चोट हैं, लिहाजा उनका मैदान पर उतना मुश्किल है।

विलियम्सन चौथे मैच में भी नहीं खेले थे और टिम साउदी ने कप्तानी की थी। आखिरी मैच में न्यूजीलैंड के सामने सम्मान बचाने के अलावा कोई दूसरा विकल्प नहीं बचा है। सोशल मीडिया में न्यूजीलैंड टीम की जमकर आलोचना हो रही है और यूजर्स उस पर 'चोकर्स' का ठप्पा लगाने के अलावा 'लूजर्स' कहने से भी परहेज नहीं कर रहे हैं।
विलियम्सन की गैर मौजूदगी में कप्तानी कर रहे टिम साउदी को भी काफी जलालत झेलनी पड़ी है। तीसरे और चौथे मैच में उन्हीं ने 'सुपर ओवर' डाला था और भारतीय बल्लेबाजों रोहित शर्मा व विराट कोहली ने उनकी गेंदों को जमकर धुना था। दूसरी ओर भारत की ओर से दोनों मैचों में जसप्रीत बुमराह ने शानदार गेंदबाजी की थी। न्यूजीलैंड ने टी20 के सुपर ओवर में 8 में से 7 मैच गंवाए हैं।
भारतीय क्रिकेट टीम दौरे में पहली बार न्यूजीलैंड की धरती पर पहली बार टी20 सीरीज जीतने का इतिहास रच चुकी है। वह अंतिम मैच को भी जीतने में कोई कसर बाकी नहीं रखेगी। विराट कोहली आखिरी मैच में लोकेश राहुल को आराम देकर ऋषभ पंत को मौका दे सकते हैं।
टीम इंडिया के टी20 क्रिकेट इतिहास में यह पहला मौका है, जब उसने किसी देश के खिलाफ 5 मैचों की सीरीज खेली है। सनद रहे कि भारतीय टीम 2 सप्ताह पहले बेंगलुरु में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेल रही थी। उसने 5 दिन के अंतराल में ऑकलैंड, हैमिल्टन और वेलिंगटन का सफर किया और अब टीम में मौजूद है। टीम ने किसी भी मैच में सफर की थकान नहीं दिखाई है।





टीम इंडिया ने बल्लेबाजी में लचीलापन दिखाया है जिससे कप्तान विराट के सामने बल्लेबाजी को लेकर कोई समस्या नहीं दिखाई दे रही है। लोकेश राहुल के ओपनिंग और विकेटकीपिंग संभालने ने टीम को कई विकल्प दिए हैं और इसी का नतीजा है कि पहली पसंद विकेटकीपर ऋषभ पंत 4 मैचों से बेंच पर बाहर बैठे हैं।

चौथे मैच में संजू सैमसन को मौका मिला और वह इस मौके का फायदा नहीं उठा पाए। अब यह देखना दिलचस्प होगा कि पंत को पांचवें मैच में मौका मिल पाता है या नहीं। मुख्य तेज गेंदबाजों भुवनेश्वर कुमार और दीपक चाहर की अनुपस्थिति में शार्दुल ठाकुर और नवदीप सैनी ने उन्हें मिले मौकों का पूरा फायदा उठाया है।


और भी पढ़ें :