कोरोनाकाल में जिनकी नौकरी गई, उनके लिए आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना

Last Updated: गुरुवार, 12 नवंबर 2020 (19:38 IST)
नई दिल्ली। सरकार ने कोरोनाकाल में रोजगार गंवाने वालों को फिर से रोजगार दिलाने के उद्देश्य से आज आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना शुरू करने की घोषणा की।
ALSO READ:
मूडीज ने भारत के GDP अनुमान को संशोधित किया, पहले के मुकाबले स्थिति में सुधार की उम्मीद
और वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर ने आज यहां आत्मनिर्भर पैकेज 3.0 की घोषणा करते हुए कहा कि पिछले वर्ष मार्च में प्रधानमंत्री रोजगार प्रोत्साहन योजना शुरू की गई थी और अब यह नई योजना शुरू की गई है। इसका लाभ उनको मिलेगा जिनकी नौकरी कोरोनाकाल में चली गई है।
इस योजना का लाभ कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPfo) में पंजीकृत लोगों को मिलेगा। यह योजना 30 जून 2021 तक चलेगी।


उन्होंने कहा कि इसके तहत ऐसे लोगों को लाभ होगा जिनका वेतन 15 हजार रुपए मासिक से कम है और वे ईपीएफओ में पंजीकृत हैं। इसके तहत एक हजार से कम कर्मचारी वाले संगठनों में कर्मचारी और नियोक्ता दोनों की ईपीएफओ की 24 फीसदी हिस्सेदारी सरकार देगी जो 2 वर्ष के लिए होगी। एक हजार से अधिक कर्मचारी वाले संगठनों में काम करने वालों के ईपीएफओ में सरकार कर्मचारी के अंश के 12 फीसदी का योगदान करेगी। (वार्ता)



और भी पढ़ें :