श्रीलंका में संसद भंग, 25 अप्रैल को होंगे मध्यावधि चुनाव

Gotabaya Rajapaksa
Last Updated: मंगलवार, 3 मार्च 2020 (12:45 IST)
कोलंबो। श्रीलंका के राष्ट्रपति गोटाबाया राजपक्षे ने सोमवार मध्यरात्रि निर्धारित समय से लगभग 6 माह पहले कर दी और 25 अप्रैल को कराने की घोषणा की।
राष्ट्रपति सचिवालय द्वारा जारी विशेष गैजेट के अनुसार राजपक्षे ने सोमवार मध्यरात्रि से संसद भंग कर दी है और 14 मई को नए संसद की बैठक बुलाई है। चुनाव के लिए उम्मीदवार 12 से 19 मार्च के बीच नामांकन दाखिल कर सकते हैं।

गौरतलब है कि श्रीलंका में संसद भंग करने के लिए उसका कार्यकाल कम से कम साढ़े 4 वर्ष तक पूरा होना अनिवार्य है। मौजूदा संसद का गठन 1 सितंबर 2015 को किया गया था।
चुनाव होने तक देश में प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे के नेतृत्व में एक कार्यवाहक सरकार काम करती रहेगी। अप्रैल के चुनावों में 1.6 करोड़ लोगों के मतदान करने की संभावना है। श्रीलंका की संसद में सदस्यों की कुल संख्या 225 है।




और भी पढ़ें :