मंगलवार, 16 जुलाई 2024
  • Webdunia Deals
  1. लाइफ स्‍टाइल
  2. सेहत
  3. यूँ रहें स्वस्थ
  4. Diet Tips For Pregnancy In Hindi
Written By

प्रेग्नेंसी में यह 10 डाइट टिप्स होंगे फायदेमंद

प्रेग्नेंसी में यह 10 डाइट टिप्स होंगे फायदेमंद - Diet Tips For Pregnancy In Hindi
प्रेग्नेंसी यानि गर्भावस्था बेहद खास लेकिन नाजुक वक्त होता है, जब महिलाओं को अपने साथ-साथ गर्भस्थ शिशु की सेहत का भी उतना ही ख्याल रखना होता है। ऐसे में आपकी डाइट का विशेष योगदान होता है। जानिए 10 ऐसे डाइट टिप्स, जो इस खास समय में आपके लिए बेहद लाभकारी साबित होंगे। जरूर पढ़ें -  
 
1 गर्भवती होने पर विशेष रूप से प्रोटीनयुक्त चीजों को अपनी डाइट में शामिल करें। इनमें दाल, अंकुरित अनाज, दूध एवं दूध से बने पदार्थ, अंडा, मीट आदि को अपनी रोज की डाइट में शामिल करें, ताकि शरीर में प्रोटीन की आपूर्ति होती रहे। 
 
2 स्वस्थ प्रेग्नेंसी के लिए आयरन को भोजन में शामिल करना बेहद जरूरी है। इसलिए हरी पत्तेदार सब्जियां, अनार, फलियां, लीची, किशमिश, अंजीर जैसी चीजों का प्रतिदिन सेवन करें। इसके अलावा विटामिन-सी का प्रयोग जरूर करें ताकि शरीर को आयरन सोखने में मदद मिल सके।
 
3 शरीर में आवश्यक उर्जा और फाइबर्स की आपूर्ति के लिए कार्बोहाइड्रेट युक्त भोजन को प्राथमिकता दें। साबुत अनाज, फल, सलाद जैसी चीजों को अपने भोजन में शामिल करें। इसके अलावा छिलके वाली मूंग की दाल खाना इस समय काफी फायदेमंद होता है।
 
4 भोजन में चिकनाई की आवश्यक मात्रा जरूर लें। लेकिन इसका अत्यधिक प्रयोग भी न करें। कुछ फैटी एसिड भ्रूण के मानसिक विकास के लिए बेहद आवश्यक होते हैं। इसलिए इनका प्रयोग खाने में जरूर करें।

होने वाले शिशु की हड्डियों और दांतों के विकास के लिए कैल्शियम की मात्रा अधिक लें।  यह आपको पीठ और कमर दर्द से निजात दिलाएगा और ब्रेस्ट फीडिंग के लिए भी तैयार करेगा। इसके लिए दूध व दूध की बनी चीजें, फलियां, हरी पत्तेदार सब्जियां, खास तौर से पालक, मूंगफली आदि को डाइट में शामिल करें।
 
6 इन सभी के बीच में पानी भी भरपूर मात्रा में पिएं। लेकिन एक साथ अधिक पानी पीने से भी बचें। दिनभर में कम से कम 6 से 8 ग्लास पानी जरूर पिएं। शह शरीर में आवश्यक नमी बनाए रखने के साथ ही शरीर के तापमान को भी नियंत्रित करेगा।
 
7 इस समय आपको शरीर को स्वस्थ रखने के लिए पैदल चलना, योगा या अन्य हल्का-फुल्का व्यायाम जरूर करना चाहिए। मन को शांत और एकाग्र रखने के लिए आप मेडिटेशन भी कर सकती हैं। यह अनावश्यक तनाव को कम करने में मदद करेगा।

किन चीजों के सेवन से बचना है - 
8 नमक की अधिक मात्रा लेने से परहेज करें। पहले से तैयार प्रोसेस्ड और प्रिजर्व्ड फूड का प्रयोग करने से हमेशा बचें। इसके अलावा नशीले पदार्थों से दूरी बनाए रखें और हो सके तो शाकाहारी रहें। अधिक तले-भुने व मसालेदार पदार्थों का प्रयोग भी कम ही करें तो बेहतर होगा। 
 
9 चाय या कॉफी का अत्यधिक सेवन करने से बचना चाहिए। दिनभर में अधिक से अधिक 3 कप चाय या कॉफी लें। इसके अलावा अधिक कैफीन स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है।
 
10 अधिक फैट और शुगर वाली चीजों से भी दूरी बनाएं। ज्यादा मीठा, बेक की हुई चीजें आपको नुकसान पहुंचा सकती है। यह स्वास्थ्य के लिए तो हानिकारक होंगी ही, बल्कि आपको प्री प्रेग्नेंसी फिगर पाने में भी काफी परेशानी हो सकती है।


 होने वाले शिशु की हड्डियों और दांतों के विकास के लिए कैल्शियम की मात्रा अधिक लें।  यह आपको पीठ और कमर दर्द से निजात दिलाएगा और ब्रेस्ट फीडिंग के लिए भी तैयार करेगा। इसके लिए दूध व दूध की बनी चीजें, फलियां, हरी पत्तेदार सब्जियां, खास तौर से पालक, मूंगफली आदि को डाइट में शामिल करें।
 
6  इन सभी के बीच में पानी भी भरपूर मात्रा में पिएं। लेकिन एक साथ अधिक पानी पीने से भी बचें। दिनभर में कम से कम 6 से 8 ग्लास पानी जरूर पिएं। शह शरीर में आवश्यक नमी बनाए रखने के साथ ही शरीर के तापमान को भी नियंत्रित करेगा।
 
7 इस समय आपको शरीर को स्वस्थ रखने के लिए पैदल चलना, योगा या अन्य हल्का-फुल्का व्यायाम जरूर करना चाहिए। मन को शांत और एकाग्र रखने के लिए आप मेडिटेशन भी कर सकती हैं। यह अनावश्यक तनाव को कम करने में मदद करेगा।


किन चीजों के सेवन से बचना है - 
8 नमक की अधिक मात्रा लेने से परहेज करें। पहले से तैयार प्रोसेस्ड और प्रिजर्व्ड फूड का प्रयोग करने से हमेशा बचें। इसके अलावा नशीले पदार्थों से दूरी बनाए रखें और हो सके तो शाकाहारी रहें। अधिक तले-भुने व मसालेदार पदार्थों का प्रयोग भी कम ही करें तो बेहतर होगा। 
 
9 चाय या कॉफी का अत्यधिक सेवन करने से बचना चाहिए। दिनभर में अधिक से अधिक 3 कप चाय या कॉफी लें। इसके अलावा अधिक कैफीन स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है।
 
10  अधिक फैट और शुगर वाली चीजों से भी दूरी बनाएं। ज्यादा मीठा, बेक की हुई चीजें आपको नुकसान पहुंचा सकती है। यह स्वास्थ्य के लिए तो हानिकारक होंगी ही, बल्कि आपको प्री प्रेग्नेंसी फिगर पाने में भी काफी परेशानी हो सकती है।