Positive Story : स्वास्थ्यकर्मियों को सलाम, इनकी मेहनत से मात्र 7 दिन में 22 लाख से ज्यादा ने दी कोरोना को मात

Last Updated: शुक्रवार, 7 मई 2021 (14:49 IST)
नई दिल्ली। देश में का कहर तेजी से बढ़ रहा है। एक ओर प्रतिदिन रिकॉर्ड संख्या में नए मामले सामने आ रहे हैं वहीं दूसरी ओर हमारे स्वास्थ्‍यकर्मी भी दिन रात एक कर इन मरीजों की रिकवरी में जुटे हुए हैं।

पिछले एक हफ्ते में प्रतिदिन करीब 3.85 लाख नए मरीज सामने आ रहे हैं। देश में एक्टिव मरीजों की संख्‍या भी 36.45 लाख के पार पहुंच गई है। लोगों को अस्पतालों में जगह नहीं है, ऑक्सीजन, रेमडेसिविर की कमी से मरीजों का बुरा हाल है। इन सबके बीच बड़ी संख्‍या में लोग इस महामारी से उबर भी रहे हैं।

स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, बीमारी से स्वस्थ होने वाले लोगों की कुल संख्या 1,76,12,351 हो गई है। देश में कोविड-19 से स्वस्थ होने की राष्ट्रीय दर घटकर 81.95 प्रतिशत हो गई है। भले ही यह दर घटती दिखाई दे रही हो लेकिन स्वास्थ्यकर्मी मरीजों में जीने का जज्बा जगाने का भरसक प्रयास कर रहे हैं। संकट काल में जब मरीज अपने परिजनों से भी दूर है उस समय इनके दिए हौंसले से ही वे महामारी को मात दे रहे हैं।

पिछले 1 हफ्ते के आंकड़ों पर नजर डाली जाए तो प्रतिदिन इस महामारी को मात देने वालों की संख्‍या भी तेजी से बढ़ रही है। 1 मई को देश में 2,99,988 मरीज रिकवर हुए थे तो आज के आंकड़ों में 3,31,507 लोगों ने कोरोना से जंग जीत ली। इस तरह मात्र 7 दिन में 22 लाख से ज्यादा लोग स्वस्थ होकर लौट चुके हैं।

तेजी से रिकवर हो रहे लोगों के आंकड़े महामारी के दौर में एक नई उम्मीद जगा रहे हैं। भले ही हम संसाधनों के अभाव में संघर्ष कर रहे हो लेकिन हमारे स्वास्थ्यकर्मियों ने तिमारदारों की सेवा में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रखी है। कहा जा रहा है कि जैसे जैसे कोरोना की दूसरी लहर का असर कम होगा। तेजी से स्थिति सामान्य हो जाएगी।

उल्लेखनीय है कि देश में कोविड-19 के एक दिन में रिकॉर्ड 4,14,188 नये मामले सामने आने के बाद कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामले 2,14,91,598 हो गए जबकि देश में 36 लाख से अधिक मरीज अब भी इस बीमारी की चपेट में हैं।



और भी पढ़ें :