Corona virus के डर से मिस्त्री ने कर ली आत्महत्या

भाषा| Last Updated: सोमवार, 6 अप्रैल 2020 (12:04 IST)
बांदा (उप्र)। बांदा जिले के देहात कोतवाली क्षेत्र में मिस्त्री का काम करने वाले युवक ने कथित रूप से के संक्रमण के डर से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

पुलिस सूत्रों ने सोमवार को बताया कि मूल रूप से हमीरपुर जिले के चिल्ली गांव के रहने वाले राजेंद्र (35) ने शनिवार देर शाम जमालपुर गांव स्थित अपने ससुराल में पंखे के हुक से फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। रविवार को पोस्टमॉर्टम कराने के बाद उसका शव उसके ससुराल वालों को सौंप दिया गया।
उन्होंने बताया कि राजेंद्र दिल्ली में रहकर राजमिस्त्री का काम करता था और वह बंद घोषित होने से पहले अपने साले की शादी में यहां आया था। वह कुछ दिनों से जुकाम, खांसी और मामूली बुखार से पीड़ित था।
मृतक के रिश्तेदार महेश ने सोमवार को बताया कि जुकाम, खांसी और बुखार से पीड़ित होने पर गांव के कुछ लोगों ने राजेंद्र के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की आशंका जताई थी जिसके बाद वह मकान की दूसरी मंजिल पर बने एक कमरे में अकेले रहने लगा था और घर-परिवार के लोग भी उससे दूरी बनाने लगे थे। उसने संभवत: कोरोना वायरस संक्रमण के भय से आत्महत्या कर ली।

हालांकि जिले के मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) डॉक्टर संतोष कुमार ने कहा कि युवक ने किसी भी सरकारी अस्पताल में अपना इलाज नहीं कराया और वह गांव वालों की राय से जुकाम, खांसी और बुखार की दवाइयां खाता रहा।
उन्होंने कहा कि हो सकता है कि ससुराल के लोगों से विवाद की वजह से उसने आत्महत्या की हो। मामले के हर पहलू की जांच की जा रही है। (भाषा)


और भी पढ़ें :