अब भारत में भी एंटीबॉडी कॉकटेल से होगा कोरोना मरीजों का इलाज, मिली मंजूरी

पुनः संशोधित बुधवार, 5 मई 2021 (20:58 IST)
नई दिल्ली। दवा निर्माता कंपनी रॉश इंडिया ने बुधवार को बताया कि रॉश प्रायोगिक का इस्तेमाल कोविड-19 मरीजों के उपचार में करने के लिए केंद्रीय औषधि मानक नियंत्रण संगठन (सीडीएससीओ) से आपात इस्तेमाल प्राधिकार (ईयूए) प्राप्त हुआ है।
ALSO READ:
अस्पतालों व नर्सिंग होम की अग्नि सुरक्षा तंत्र की समीक्षा करें : केंद्रीय गृह मंत्रालय
रॉश इंडिया ने एक बयान में बताया कि भारत में कासिरिविम्ब और इमदेवमब एंटीबॉडी के मिश्रण का इस्तेमाल करने की अनुमति अमेरिका में ईयूए के लिए जमा आंकड़ों व यूरोपीय संघ के मानव पर चिकित्सा उत्पाद के इस्तेमाल की समिति (सीएचएमपी) के वैज्ञानिकों की राय के आधार पर मिली है।
कंपनी ने बताया कि आपात इस्तेमाल प्राधिकार प्राप्त होने के बाद रॉश इसका आयात वैश्विक उत्पादकों से कर भारत में रणनीतिक साझेदार सिपला के जरिए वितरित कर सकती है। एंटीबॉडी कॉकटेल का इस्तेमाल कोविड-19 के हल्के एवं मध्यम लक्षण वाले मरीजों के उपचार में किया जाता है। (भाषा)



और भी पढ़ें :