Positive Story : कोरोना मरीजों की उखड़ती सांसों का सहारा बना ओडिशा का राउरकेला, 9 राज्यों को भेज चुका है 2501 टन ऑक्सीजन

Last Updated: शुक्रवार, 30 अप्रैल 2021 (10:42 IST)
-मैरी रोज बाबा
राउरकेला। देशभर में बेकाबू ढंग से बढ़ते कोरोना के मामलों को देखते हुए इसे लहर नहीं सुनामी कहा जा सकता है देश के कई हिस्सों से अस्पतालों में बेड, जरूरी दवाइयों और ऑक्सीजन की किल्लत की खबरें आ रही हैं। यही नहीं, ऑक्सीजन की कमी के चलते कई लोगों की जान भी जा रही है। ऐसे में ओडिशा का राउरकेला शहर कई राज्यों के कोरोना मरीजों की उखड़ती सांसों का सहारा बनकर उभरा है।
‘स्टील सिटी’ के नाम से मशहूर राउरकेला में स्थित सेल (SAIL) का राउरकेला स्टील प्लांट (RSP) हर दिन न केवल राज्य के अस्पतालों में बल्कि देश के दूसरे राज्यों को भी ऑक्सीजन पहुंचा रहा है। RSP अप्रैल महीने में (28 अप्रैल तक) ओडिशा के अलावा दिल्ली सहित 8 अन्य राज्यों के लिए 2501 मैट्रिक टन ऑक्सीजन भेज चुका है।

ओडिशा के विभिन्न अस्पतालों को अप्रैल महीने में (28 अप्रैल तक) 479 टन ऑक्सीजन भेजा जा चुका है। वहीं, आंध्र प्रदेश को 408 टन जबकि तेलंगाना को 175 टन ऑक्सीजन भेजा गया है। इसके अलावा उत्तर प्रदेश को 519 टन, मध्य प्रदेश को 329 टन, हरियाणा को 198 टन, छत्तीसगढ़ को 318 टन, गुजरात को 33 टन, दिल्ली को 23 टन और महाराष्ट्र को 19 टन ऑक्सीजन भेजा गया है।
राउरकेला के अलावा ओडिशा के जाजपुर, ढेंकनाल और अंगुल से भी अन्य राज्यों को ऑक्सीजन की सप्लाई की जा रही है। ओडिशा पुलिस जरूरतमंद राज्यों में ऑक्सीजन सप्लाई करने के लिए 24 घंटे काम कर रही है।

बताते चलें कि मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने 22 अप्रैल को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात करके ऑक्सीजन की कमी को दूर करने में अपनी तरफ से हर संभव मदद का भरोसा दिया था। जिसके बाद एडीजी लॉ एंड ऑर्डर वाईके जेठवा (नोडल ऑफिसर) के नेतृत्व में एक स्पेशल सेल का गठन किया गया है, जो ग्रीन कॉरिडोर बनाकर ऑक्सीजन टैकर्स को भेज रही है।



और भी पढ़ें :