एंटीबॉडी थैरेपी लेने के बाद Covid 19 के 2 बुजुर्ग मरीज संक्रमणमुक्त हुए

Last Updated: बुधवार, 9 जून 2021 (08:33 IST)
नई दिल्ली। दिल्ली के एक निजी अस्पताल में कोविड-19 के 2 बुजुर्ग मरीजों को 1 सप्ताह पहले 'मोनोक्लोनल एंटीबॉडी थैरेपी' दी गई थी, जो कि अब कोरोनावायरस संक्रमण से मुक्त हो गए हैं। दोनों मरीजों को हृदय संबंधी दिक्कतें भी थीं। अस्पताल के एक वरिष्ठ डॉक्टर ने मंगलवार को यह जानकारी दी।
ALSO READ:
कोरोना की दूसरी लहर से भारत के आर्थिक पुनरुद्धार को नुकसान, वर्ल्ड बैंक का अनुमान, 8.3% रहेगी GDP वृद्धि दर

चिकित्सा विशेषज्ञों के मुताबिक इस थैरेपी से उपचार से हल्के से मध्यम लक्षण वाले 70 फीसदी मरीजों को अस्पताल में भर्ती होने की जरूरत नहीं पड़ती। बीएल कपूर अस्पताल में सुनिरमल घटक (70) और सुरेश कुमार त्रेहान (65) को 1 जून को एकल खुराक उपचार पद्धति के आधार पर कासिरिविमाब और इम्डेविमाब का मिश्रण दिया गया था।

अस्पताल ने एक बयान में कहा कि सबसे अच्छी बात यह रही कि दोनों मरीजों का ऑक्सीजन स्तर 95 फीसदी रहा और वे कोविड-19 का लक्षण सामने आने के 3 दिन के भीतर अस्पताल आ गए थे। (भाषा)



और भी पढ़ें :