10 ऐसे आविष्कार जो महिलाओं ने किए हैं...

WD|
9. कोबोल कम्प्यूटर लैंग्वेज ( COBOL Computer language ) : जब कम्यूटर के क्षेत्र में हासिल की जा चुकीं उपल्ब्धियों की बात होती है तो हम चार्ल्स बैबेज, एलन ट्यूरिंग और बिल गेट्स जैसे नामों के बारे में सोचते हैं। परंतु एडमिरल ग्रेस मुर्रे हॉपर को उनके कंप्यूटर इंडस्ट्री में दिए गए विशेष योगदान का श्रेय दिया जाना चाहिए। 
एडमिरल ग्रेस हॉपर ने सेना 1943 में ज्वॉइन की थी। यहां उन्हें हॉर्वड में स्टेशंड किया गया। वह यहां आईबीएम के हार्वड मार्क आई कम्प्यूटर पर काम करती थीं। यह पहला युनाइटेड स्टेट्स का पहला लार्ज-स्केल कम्प्यूटर था। 
 
वह तीसरी ऐसी व्यक्ति थीं जिन्होंने इस कम्प्यूटर को प्रोग्राम किया था। उन्होंने एक मैन्यूअल लिखा जो उनके बाद काम करने वाले लोगों के लिए बहुत खास रहा। 1950 में एडमीरल हॉपर ने कॉपिलर की खोज की जिससे अंग्रेजी में दी जाने वाली कमांड कम्प्यूटर कोड में ट्रांसलेट हो जाती थीं। इस डिवाइस से प्रोग्राम ज्यादा कोड कम गलतियों के और अधिक सरलता के साथ बनाने लगे। हॉपर का दूसरा कोम्पिलर 'फ्लो-मैटिक' का इस्तेमाल UNIVAC I and II में किया गया जो पहले व्यवसायिक तौर पर उपल्ब्ध कम्प्यूटर थे। > हॉपर को कोबोल (COBOL) the Common Business-Oriented Language की खोज का श्रेय भी दिया जाता है। एडमिरल हॉपर को कई पुरस्कार दिए गए। जिनमें एक यूएस वॉरशिप को उनका नाम दिया जाना भी शामिल है।



और भी पढ़ें :