UP : ब्राह्मण समाज BSP के साथ, 2022 में सत्ता से उखाड़ फेकेंगे भाजपा को : सतीशचंद्र मिश्रा

हिमा अग्रवाल| Last Updated: बुधवार, 11 अगस्त 2021 (00:31 IST)
हमें फॉलो करें
मेरठ। में आगामी के लिए राजनीतिक पार्टियों ने अपनी चुनावी बिसात बिछानी शुरू कर दी है। बहुजन समाजवादी पार्टी को इस बार चुनाव में अपने परांपरागत वोट से अलग ब्राह्मण नजर आ रहे है। ब्राह्मणों को रिझाने के लिए पूरे प्रदेश में बसपा प्रबुद्ध वर्ग समाज की संगोष्ठी कर रही है।
इस ब्राह्मण सम्मेलन की जिम्मेदारी बसपा के राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा को सौंपी गई है और वह अब तक प्रदेश के 22 जिलों में प्रबुद्ध सम्मेलन कर चुके है। इसी कड़ी में आज सतीश मिश्रा मेरठ पहुंचे और उन्होंने हुंकार भरते हुए कहा कि पूरे प्रदेश का प्रबुद्ध वर्ग बहुजन समाज पार्टी के साथ है। हम 2022 में पूर्ण बहुमत के साथ बहन कुमारी मायावती की सरकार बनायेंगे और फिर से कानून का राज स्थापित होगा।
ALSO READ:

Maharashtra में खुलेंगे 5वीं से 8वीं कक्षा के स्कूल खुलेंगे, जारी हुई गाइडलाइन
बसपा राष्ट्रीय महासचिव ने अपने उद्बोधन में कहा कि भारतीय जनता पार्टी के अत्याचारों से ब्राह्मण समाज परेशान और क्षुब्ध है और वही उसे सत्ता से बाहर का रास्ता दिखायेगा। वर्तमान भाजपा सरकार में जितना शोषण और उत्पीड़न ब्राह्मणों का हुआ उतना किसी और सरकार में नही हुआ।

मिश्रा बोले की बसपा ने अपने कार्यकाल में ब्राह्मणों को सबसे ज्यादा सम्मान, तरक्की और सुरक्षा देने का काम किया है। जबकि भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने ब्राह्मणों का अपमान हुआ है, उनके खिलाफ सरकार में झूठे मुकदमे दर्ज करके फर्जी एनकाउंटर करवा रही है। लेकिन अब आने वाले समय में ब्राह्मणों पर अत्याचार नहीं बर्दाश्त नही किया जायेगा। हमारी बसपा पार्टी सदा से ब्राह्मणों का सम्मान करती आयी है और सदा उनके सम्मान के लिए खड़ी रहेगी।

बसपा के राष्ट्रीय महासचिव ने अपनी बात आगे बढ़ाते हुए कहा कि उत्तर-प्रदेश में 2007 में ब्राह्मण समाज के 16 प्रतिशत ब्राह्मण समाज के बलबूते बहन जी की सरकार बनी थी, अब उसी तरह ब्राह्मण समाज 2022 में मायावती को मुख्यमंत्री बनाने का काम करेगा। वही ब्राह्मण समाज को लुभाने के लिए उन्होंने कहा कि 2007 में जब हमारी सरकार बनी थी तो बहन मायावती ने ब्राह्मण समाज के लोगों को बड़े मंत्रालय दिए थे। उनके 15 एमएलसी बनाए गये तो वही 35 ब्राह्मणों को मंत्री का दर्जा दिया गया था।

मिश्रा ने कहां योगी सरकार में ब्राह्मणों के 700 से ज्यादा एनकाउंटर किए गए हैं। कानपुर के बिकरु कांड के आरोपी को बांधकर गाड़ी पलट कर मारा गिराया था। इस सरकार में कानून का राज कायम नही है, अपितु पुलिस का गुंडाराज चल रहा है। सरकार में बैठे लोग ब्राह्मणों को डराने धमकाने का काम कर रहे हैं।प्रदेश में भाजपा सरकार ने ब्राह्मण समाज को शोषण देने के अलावा कुछ नहीं दिया। सभी वर्गों के साथ भाजपा ने छलावा किया है।
इस अवसर पर सतीश मिश्रा को किसान भी याद आए। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार किसानों से आमदनी दोगुना करने का वादा किया था, लेकिन किसान आज अपनी मांगों को लेकर पिछले एक साल से सड़कों पर आंदोलन कर है। किसानों के इस प्रदर्शन में अब तक 500 लोग दुनिया छोड़ गए है, लेकिन सरकार को इससे कोई फर्क नहीं पड़ा। भाजपा की सरकार बस केवल तीन उद्योगपतियों के लिए काम कर रही है।
मिश्रा ने बोले कि बसपा पार्टी भाजपा का असली चेहरा सामने ला रही है, जिसके लिए सम्पूर्ण उत्तर प्रदेश में प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन कर रही है, यूपी के 22 जिलों में ही अभी ब्राह्मण समाज सम्मेलन हुए हैं, जिन्हें देखकर योगी सरकार इतना डर गई है कि लखनऊ से निर्देश देकर सम्मेलन में आए लोगों को अंदर नहीं जाने दिया है। यहां तक की लोगों के लिए बनवाए गए भोजन को भी फिकवा दिया है। ब्राह्मण समाज ने ये सब अपनी आंख़ों से देखा है और वह इसका जबाव 2022 के चुनावों में भाजपा सरकार को सत्ता से उखाड़ कर देगा।



और भी पढ़ें :