0

अक्षय तृतीया के दिन इस नैवेद्य से प्रसन्न होंगे भगवान विष्णु, पढ़ें आसान विधि

सोमवार,मई 10, 2021
0
1
आज हनुमान जयंती है। आज के दिन हनुमान जी को लड्डू या बूंदी के प्रसाद का भोग लगाने से वे प्रसन्न होते है। लेकिन अगर आप हनुमान जयंती के दिन उन्हें प्रसन्न करने के लिए निम्न मिठाई, पकवानों का प्रसाद या भोग लगाएं,
1
2
1 कप धनिया पाउडर, 1/3 कप पिसी हुई चीनी, 1/2 कप ड्रायफ्रूट्‍स की कतरन, 1 चम्मच इलायची पाउडर, 3-4 केसर के लच्छे, घी आश्यकतानुसार।
2
3
नवरात्रि में पेड़े केभोग से माता रानी प्रसन्न होंगी। कैसे बनाएं घर पर- सबसे पहले दूध में मेवे की कतरन मिलाकर मिक्सी में महीन पेस्ट तैयार करें।
3
4
गणगौर पर्व पर गणगौरी गुने बनाने के लिए सबसे पहले रवा-मैदा छान लें। आधा कप घी का मोयन लें और मीठा पीला रंग मिलाकर पूरी की तरह आटा गूंथ लें।
4
4
5
होली मस्ती और उल्लास का पर्व है, जो हर किसी के मन को लुभाता है। आइए इस बार मीठी-मीठी रंग-बिरंगी गुझिया से होली का स्वागत करें और कोरोना काल में पर्व को दोगुने उत्साह से मनाएं।
5
6
सबसे पहले दो कप पानी लेकर शक्कर गला लें। फिर सभी मेवा सामग्री को मिक्स करके 3-4 घंटे के लिए भिगो कर रखें। त‍त्पश्चात पानी निथारकर मिक्सी में बारीक पीस लें।
6
7
सबसे पहले मैदे में घी का मोयन डालकर पानी की मदद से सख्त आटा गूंथ लें। एक कड़ाही में खोया भून लें। ठंडा छोने पर इसमें कोको पावडर, पिसी शक्कर, बादाम
7
8
400 मिली. दूध, 15 बादाम (पानी में भीगे हुए), 2 चम्मच खसखस, 2 चम्मच सौंफ, 8 इलायची, 12 चम्मच चीनी, 2 चम्मच काली मिर्च, 2 चम्मच जीरा
8
8
9
होली, दीपावली हो या रक्षाबंधन इन खास पर्वों पर घरों में नमकीन शकर पारे, मीठी खुरमी तथा मीठे शकर पारे बनाने की परंपरा रही है। आइए होली के इस रंगबिरंगी पर्व पर मीठी चाशनी
9
10
एक किलो शकर में एक ग्लास पानी मिला लें। अब धीमी आंच पर रखकर उसकी चाशनी तैयार कर लें।
10
11
सबसे पहले ताजा दही को एक दिन पहले मलमल के कपड़े में बांधकर लटका दें। दूसरे दिन पूरा पानी निथर जाने पर उतार लें। अब इसमें शकर मिलाकर
11
12
सबसे पहले एक प्रेशर कुकर में चने की दाल को अच्छी तरह से धोकर, दाल से डबल पानी लेकर कम आंच पर 30 से 35 मिनट पकने दें। 2-3 सीटी लेने के बाद गैस बंद कर दें।
12
13
एक कप ताजा दूध, एक कप मैदा, एक कप चीनी, एक चम्मच नींबू रस, एक चम्मच सौंफ, तेल (तलने और मोयन के लिए), पाव कटोरी मेवे की कतरन।
13
14
सबसे पहले उड़द की दाल को धोकर 4-5 घंटे पानी में गलाइए। निथारकर मिक्सर में हल्का-सा पानी का छींटा देकर चिकना पीसिए। पिसी हुई दाल में पीला रंग
14
15
बूंदी के लड्‍डू बनाने के लिए सबसे पहले बेसन को छान लें। उसमें चुटकी भर मीठा पीला रंग मिलाइए और पानी से घोल तैयार कर लीजिए।
15
16
भगवान श्री विष्णु पीले रंग की चीजों का नैवेद्य चढ़ाने से अतिप्रसन्न होते है और अपने भक्तों पर अपनी असीम कृपा बरसाते हुए विशेष वरदान भी देते हैं।
16
17
एक कड़ाही में घी गरम करके आटा डालकर धीमी आंच पर गुलाबी होने तक सेकें। एक बर्तन में अलग से पानी गरम करके आटे में डाल कर जल्दी-जल्दी चलाएं।
17
18
एक कप मैदा छना हुआ, एक कप दूध, एक चम्मच सौंफ, डेढ़ कप शक्कर, एक चम्मच नींबू रस, थोड़ासा मीठा रंग और कुछेक केसर के लच्छे,
18
19
ऋतुराज वसंत के सुहाने मौसम में आप भी अपने रिश्ते में प्यार की मिठास घोलना चाहती हैं, तो अवश्य ट्राई करें ये वासंती व्यंजन...
19