सेंसेक्स 894 अंक लुढ़का, Yes Bank के संकट से बाजार में कोहराम

पुनः संशोधित शुक्रवार, 6 मार्च 2020 (17:34 IST)
मुंबई। कोरोना वायरस 'कोविड-19" को लेकर बढ़ी चिंता और Yes Bank में जारी संकट से घरेलू शुक्रवार को ढाई फीसदी की भारी गिरावट के साथ 5 महीने के निचले स्तर पर बंद हुए। बीएसई का सेंसेक्स 893.99 अंक यानी 2.32 प्रतिशत की गिरावट के साथ 37576.62 अंक पर आ गया जो पिछले साल 7 अक्टूबर के बाद का निचला स्तर है। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 289.45 अंक यानी 2.57 प्रतिशत लुढ़ककर 10979.55 अंक पर बंद हुआ। यह 19 सितंबर 2019 के बाद का निचला स्तर है।
चौतरफा बिकवाली के बीच मझौली और छोटी कंपनियों पर भी दबाव रहा। बीएसई का मिडकैप 2.36 प्रतिशत टूटकर 14227.49 अंक पर और स्मॉलकैप 1.92 प्रतिशत की गिरावट के साथ 13329.78 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स में जिन 2574 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ उनमें 1919 के शेयर लाल निशान में और 527 के हरे निशान में बंद हुए, जबकि 128 कंपनियों के शेयर दिनभर के उतार-चढ़ाव के बाद अंतत: अपरिवर्तित बंद हुए।

रिजर्व बैंक ने Yes Bank के निदेशक मंडल को भंग कर वाणिज्यिक बैंक के कामकाज पर 30 दिन की अस्थाई रोक लगा दी है। साथ ही इस 30 दिन के लिए प्रति ग्राहक अधिकतम 50 हजार रुपए की निकासी सीमा भी तय कर दी है। गुरुवार शाम जारी इस आदेश से बैंकिंग क्षेत्र में अफरातफरी मच गई। एक समय सेंसेक्स 1400 अंक और निफ्टी 400 अंक से ज्यादा टूट गया था। हालांकि रिजर्व बैंक और सरकार के इस आश्वासन के बाद कि बैंक में जमाकर्ताओं का पूरा पैसा सुरक्षित है, शेयर बाजार की गिरावट में कुछ कमी आई।

वैश्विक स्तर पर कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से फैलने से विदेशों में भी शेयर बाजारों में बड़ी गिरावट रही। इससे कॅमोडिटी पर दबाव रहा। घरेलू शेयर बाजारों में बैंकिंग और वित्तीय कंपनियों के साथ ही धातु, तेल एवं गैस और ऊर्जा समूहों की कंपनियों पर ज्यादा दबाव रहा। सेंसेक्स की कंपनियों में टाटा स्टील और भारतीय स्टेट बैंक के शेयरों ने 6 फीसदी से अधिक का गोता लगाया। इंडसइंड बैंक में भी साढ़े 5 प्रतिशत की गिरावट रही।

रिलायंस इंडस्ट्रीज, आईटीसी, ओएनजीसी, आईसीआईसीआई बैंक और एचडीएफसी बैंक में 3 से 4 प्रतिशत के बीच गिरावट दर्ज की गई। सेंसेक्स से बाहर की कंपनियों में Yes Bank ने सबसे ज्यादा 56 फीसदी का नुकसान उठाया और इसके शेयर 20.65 रुपए टूटकर 16.20 रुपए रह गए। गत दिवस 38470.61 अंक पर बंद होने वाला सेंसेक्स शुक्रवार को 856.65 अंक लुढ़ककर 37613.96 अंक पर खुला और खुलते ही 37011.09 अंक तक उतर गया। इसका दिवस का उच्चतम स्तर 37747.07 अंक दर्ज किया गया। अंत में यह गत दिवस की तुलना में 2.32 प्रतिशत नीचे 37576.62 अंक पर बंद हुआ।

निफ्टी 326.35 अंक चढ़कर 10942.65 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान इसका दिवस का निचला स्तर 10827.40 अंक और उच्चतम स्तर 11035.10 अंक रहा। अंतत: यह 2.57 प्रतिशत की गिरावट में 10979.55 अंक पर रहा। निफ्टी की 50 में से 45 कंपनियां गिरावट में और शेष 5 बढ़त में रहीं। विदेशों में भी चौतरफा बिकवाली रही।

एशिया में जापान का निक्की 2.72 प्रतिशत, हांगकांग का हैंगसेंग 2.32 प्रतिशत, दक्षिण कोरिया का कोस्पी 2.16 प्रतिशत और चीन का शंघाई कंपोजिट 1.21 प्रतिशत की गिरावट में रहा। यूरोप में शुरुआती कारोबार में जर्मनी का डैक्स 3.38 फीसदी और ब्रिटेन का एफटीएसई 2.88 फीसदी कमजोर हुए। बीएसई के समूहों में धातु में सर्वाधिक 4.40 प्रतिशत की गिरावट रही।

बैंकिंग समूह का सूचकांक 3.46 प्रतिशत, वित्त का 3.39, ऊर्जा का 3.22, रियलिटी का 3.09, तेल एवं गैस का 2.58, बिजली का 2.49, इंडस्ट्रियल्स का 2.38, यूटिलिटीज का 2.23, दूरसंचार का 2.22, एफएमसीजी का 1.95, बुनियादी वस्तुओं का 1.89, पूंजीगत वस्तुओं का 1.72, टेक का 1.67, आईटी का 1.39, टिकाऊ उपभोक्ता उत्पाद का 1.37, स्वास्थ्य का 1.25 और सीडीजीएंडएस का 0.97 प्रतिशत की गिरावट में रहा।

सेंसेक्स की कंपनियों में टाटा स्टील के शेयर 6.51 प्रतिशत, भारतीय स्टेट बैंक के 6.19, इंडसइंड बैंक के 5.62, एचडीएफसी के 3.90, आईसीआईसीआई बैंक के 3.67, ओएनजीसी के 3.62, आईटीसी के 3.27, रिलायंस इंडस्ट्रीज के 3.16, एक्सिस बैंक के 2.90, एनटीपीसी के 2.69, पावरग्रिड के 2.53, बजाज फाइनेंस के 2.51, इंफोसिस के 2.04 और एलएंडटी के 2.01 प्रतिशत लुढ़क गए।

एचसीएल टेक्नोलॉजीज में 1.75, महिंद्रा एंड महिंद्रा में 1.73, भारती एयरटेल में 1.53, एचडीएफसी बैंक में 1.46, टेक महिंद्रा में 1.39, हिंदुस्तान यूनिलिवर में 1.33, हीरो मोटोकॉर्प में 1.29, टाइटन में 1.28, कोटक महिंद्रा बैंक में 1.17, सनफार्मा में 0.98, अल्ट्राटेक सीमेंट में 0.91, नेस्ले इंडिया में 0.85 और टीसीएस में 0.70 प्रतिशत की गिरावट रही। सेंसेक्स में सिर्फ 3 कंपनियां बढ़त में रहीं। बजाज ऑटो के शेयर 1.20 फीसदी, मारुति सुजुकी के 1.03 फीसदी और एशियन पेंट्स के 0.13 फीसदी चढ़े।


और भी पढ़ें :