कोरोना की चिंता के बीच सेंसेक्स मामूली बढ़त के साथ बंद, RBI की मौद्रिक नीति पर नजर

Last Updated: बुधवार, 7 अप्रैल 2021 (11:58 IST)
मुंबई। शेयर बाजारों में मंगलवार को उतार-चढ़ावभरे कारोबार में रही। देश में कारोनावायरस संक्रमितों की संख्या एक बार फिर तेजी से बढ़ने और उसका अर्थव्यवस्था पर पड़ने वाले प्रभाव को लेकर चिंता के बीच बाजार में उतार-चढ़ाव रहा। कारोबारियों के अनुसार बुधवार को जारी होने वाली मौद्रिक नीति समीक्षा पर निवेशकों की नजर है। इससे उनमें से कई बाजार से दूर रहे।
के तीस शेयरों पर आधारित में कारोबार के दौरान करीब 646 अंकों का उतार-चढ़ाव आया। अंत में यह पिछले दिन के बंद के मुकाबले 42.07 अंक यानी 0.09 प्रतिशत की मामूली बढ़त के साथ 49,201.39 अंक पर बंद हुआ। इसी प्रकार, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 45.70 अंक यानी 0.31 प्रतिशत की हल्की बढ़त के साथ 14,683.50 अंक पर बंद हुआ।
सेंसेक्स में शामिल शेयरों में सर्वाधिक लाभ में एशियन पेंट्स रहा। इसमें 4.07 प्रतिशत की तेजी आई। इसके अलावा सन फार्मा, एचयूएल, एचडीएफसी, डा. रेड्डीज, नेस्ले इंडिया और महिंद्रा एंड महिंद्रा में भी अच्छी तेजी रही। दूसरी तरफ, जिन शेयरों में गिरावट दर्ज की गई, उनमें पावरग्रिड, एक्सिस बैंक, इंडसइंड बैंक, अल्ट्राटेक सीमेंट और आईसीआईसीआई बैंक शामिल हैं। इनमें 2.29 प्रतिशत तक की गिरावट दर्ज की गई।
रिलायंस सिक्योरिटीज के रणनीतिक मामलों के प्रमुख विनोद मोदी ने कहा कि घरेलू शेयर बाजारों में काफी उतार-चढ़ाव रहा और शुरू में जो अच्छी तेजी थी, वह कायम नहीं रह पाई। इसका कारण देश भर में कोविड-19 मामलों में तेजी और उसके कारण विभिन्न राज्यों में लगाई जा रही पाबंदियों से निवेशकों की धारणा पर असर पड़ना है।
उन्होंने कहा कि मेरे विचार से जब तक कोरोनावायरस को फैलने से रोका नहीं जाता या उस पर काबू नहीं पाया जाता, निकट भविष्य में बाजार में उतार-चढ़ाव बना रह सकता है। महाराष्ट्र का देश के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में 13 प्रतिशत से अधिक तथा औद्योगिक उत्पादन में करीब 20 प्रतिशत का योगदान है। ऐसे में वहां सप्ताहांत लॉकडाउन से निश्चित रूप से अर्थव्यवस्था पर अच्छा प्रभाव नहीं पड़ेगा।

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार देश में पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 96,982 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या 1,26,86,049 हो गई। मंगलवार सुबह 8 बजे जारी किए गए अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, पिछले 24 घंटे में 446 और संक्रमितों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 1,65,547 हो गई है।
एशिया के अन्य बाजारों में शंघाई कंपोजिट इंडेक्स और जापान का निक्की नुकसान में रहे जबकि दक्षिण कोरिया के कोस्पी में तेजी रही। भारतीय समयानुसार दोपहर बाद खुले यूरोप के बाजारों में शुरुआती कारोबार में तेजी रही। इस बीच वैश्विक तेल मानक ब्रेंट क्रूड 2.43 प्रतिशत मजबूत होकर 63.66 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया।अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 12 पैसे टूटकर 73.42 पर बंद हुआ। शेयर बाजार के पास उपलब्ध आंकड़े के अनुसार सोमवार को विदेशी संस्थागत निवेशक पूंजी बाजार में शुद्ध बिकवाल रहे। उन्होंने सोमवार को 931.66 करोड़ रुपए मूल्य के शेयर बेचे। (भाषा)



और भी पढ़ें :