Adi Shankaracharya : 130 टन की एक ही शिला से बनी है आदि शंकराचार्य की प्रतिमा, PM मोदी ने किया अनावरण

एन. पांडेय| पुनः संशोधित शुक्रवार, 5 नवंबर 2021 (09:43 IST)
देहरादून। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी केदारनाथ पहुंचकर सबसे पहले बाबा केदारनाथ की पूजा कर अब केदार धाम की पुनर्निर्माण कामों का निरीक्षण किया। साल 2013 में उत्तराखंड में आई बाढ़ में केदारनाथ मंदिर के बगल में बनी आदि गुरु शंकराचार्य की समाधि बह गई थी।
अब केदारनाथ मंदिर के ठीक पीछे शंकराचार्य की नई प्रतिमा स्थापित की गई है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इस प्रतिमा का अनावरण किया। ने सनातन धर्म के प्रसिद्ध चारों धाम और मठों की स्थापना की थी। आदि शंकराचार्य की प्रतिमा कर्नाटक के मैसूर के मूर्तिकार अरुण योगीराज ने बनाई है।

इस साल सितंबर महीने में मूर्ति को मैसूर से चिनूक हेलीकॉप्टर के द्वारा उत्तराखंड ले जाया गया और यहां कृष्ण शिला (ब्लैक स्टोन) से मूर्ति को बनाया गया। प्रतिमा के निर्माण के लिए लगभग 130 टन की एक ही शिला का चयन किया गया था। शिला को तराशने और कांटने-छांटने के बाद

प्रतिमा का वजन तकरीबन 35 टन ही रह गया। प्रतिमा की ऊंचाई लगभग 12 फुट है।



और भी पढ़ें :