गुजरात में तालिबानी सजा : उबलते तेल में जबरन डाले 11 वर्षीय लड़की के हाथ

Last Updated: गुरुवार, 23 सितम्बर 2021 (23:20 IST)
अहमदाबाद। गुजरात के पाटन जिले में एक महिला ने पड़ोस की 11 वर्षीय लड़की का हाथ उबलते तेल में जबरन डाल दिया ताकि साबित कर सके कि लड़की झूठ नहीं बोल रही है। यह जानकारी गुरुवार को पुलिस ने दी।
एक अधिकारी ने बताया कि पुलिस ने गुरुवार को आरोपी लखी मकवाना (40) को घटना के सिलसिले में कर लिया। यह घटना बुधवार को पाटल के संतालपुर शहर में हुई। गुजरात राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग की अध्यक्ष जागृतिबेन पंड्या ने जिलाधिकारी से कहा है कि घटना की जांच कराएं और रिपोर्ट सौंपें।

घटना के बाद बनाए गए वीडियो में दिख रहा है कि पीड़िता की दाहिनी हथेली झुलस गई है और वह रोते हुए अपना दुखड़ा सुना रही है। वीडियो को सोशल मीडिया पर भी डाला गया है। पंड्या ने बृहस्पतिवार को कहा, मुझे सूचना दी गई है कि पाटन पुलिस ने इस सिलसिले में मामला दर्ज कर लिया है।

पंड्या ने कहा, मैंने अपने जिला बाल संरक्षण अधिकारी को निर्देश दिया है कि पीड़िता के घर जाएं और उसके उपचार का जायजा लें। मैंने जिलाधिकारी से भी कहा है कि अपनी तरफ से जांच कराएं और रिपोर्ट सौंपें।

संतालपुर थाने के उपनिरीक्षक एनडी परमार ने कहा कि लड़की के पिता की शिकायत के आधार पर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है और उसके खिलाफ हमला एवं आपराधिक धमकी के आरोपों में मामला दर्ज कर लिया गया है।

उन्होंने कहा कि जांच से पता चलता है कि महिला और लड़की का परिवार पड़ोसी हैं और करीब दस दिन पहले लड़की ने घर के बाहर एक अज्ञात व्यक्ति को आरोपी से बात करते हुए देखा था।

अधिकारी ने बताया, बुधवार की सुबह जब लड़की के माता-पिता घर पर नहीं थे तो आरोपी ने लड़की से पूछा कि क्या उसने दूसरे लोगों को उस व्यक्ति से उसकी बातचीत के बारे में बताया तो नहीं है। लड़की ने इस बात से इनकार किया लेकिन आरोपी उसे अपने घर के अंदर ले गई और उससे खौलते तेल में अपना हाथ डालने को कहा ताकि साबित हो सके कि वह झूठ नहीं बोल रही है।
उन्होंने कहा कि जब लड़की ने वहां से भागने का प्रयास किया तो आरोपी ने उसे जान से मारने की धमकी दी और उसके दाहिने हाथ को जबरन खौलते तेल में डाल दिया।(भाषा)



और भी पढ़ें :