महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक के खिलाफ थाने में शिकायत दर्ज

पुनः संशोधित मंगलवार, 9 नवंबर 2021 (19:51 IST)
मुंबई। सरकार के मंत्री और एनसीपी नेता के खिलाफ एनसीबी के झोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े की बहन यास्मीन वानखेड़े ने थाने में दर्ज कराई है।

जानकारी के मुताबिक समीर वानखेड़े की बहन यास्मीन ने मुंबई के गोरेगांव थाने में नवाब मलिक के खिलाफ थाने में शिकायत दर्ज कराई है।
उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों मलिक ने वानखेड़े की जाति पर सवाल उठाते हुए उन्हें मुस्लिम बताया था।
इसके बाद मलिक की बहन यास्मीन ने भी कहा था कि उनके परिवार को जान से मारने की धमकियां दी जा रही हैं।

राज्यपाल को शिकायत : समीर वानखेड़े की पत्नी क्रांति रेडकर और उनके पिता ज्ञानदेव वानखेड़े ने मंगलवार को महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की और राज्य के मंत्री नवाब मलिक के खिलाफ शिकायत दी।
क्रांति ने संवाददाताओं से कहा कि मैंने अपने ससुर ज्ञानदेव वानखेड़े और ननद यास्मीन वानखेड़े के साथ राज्यपाल कोश्यारी से मुलाकात की। हमने मंत्री नवाब मलिक द्वारा हम पर लगातार जारी हमलों को लेकर शिकायत दी है। इन हमलों के कारण परिवार की प्रतिष्ठा दांव पर लग गई है।'

राज्यपाल की प्रतिक्रिया के संबंध में पूछे गए सवाल पर क्रांति ने कहा कि उन्होंने यह भरोसा जताते हुए कि सत्य की जीत होगी, हमें संयम बरतने और धैर्य रखने के लिए कहा। उनसे मिलने के बाद हम काफी सकारात्मकता महसूस कर रहे हैं।'
मुंबई तट पर क्रूज जहाज से कथित तौर पर मादक पदार्थ की जब्ती मामले के बाद से महाराष्ट्र के मंत्री और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) नेता नवाब मलिक लगातार एनसीबी अधिकारी समीर वानखेड़े पर निशाना साध रहे हैं।

मलिक ने वानखेड़े पर मुस्लिम परिवार में जन्म लेने और फर्जी जाति प्रमाणपत्र के जरिए आरक्षण का लाभ लेकर नौकरी प्राप्त करने जैसे कई आरोप लगाए हैं।

मलिक ने मादक पदार्थ संबंधी फर्जी मामलों में लोगों को फंसाने और फिर अवैध वसूली करने का भी आरोप वानखेड़े पर लगाया है। हालांकि, वानखेड़े ने अब तक लगाए गए सभी आरोपों का खंडन किया है। वानखेड़े के पिता ने बंबई उच्च न्यायालय में मलिक के खिलाफ मानहानि वाद भी दायर किया है।



और भी पढ़ें :