KBC पर धार्मिक भावनाएं भड़काने का आरोप, अमिताभ बच्चन के खिलाफ लखनऊ में शिकायत

पुनः संशोधित शनिवार, 31 अक्टूबर 2020 (20:19 IST)
लखनऊ। अखिल भारत हिन्दू महासभा ने ‘कौन बनेगा करोड़पति केबीसी’ में मनुस्मृति को जलाए जाने संबंधी पूछे गए सवाल को लेकर हिन्दू समाज में आपसी जातिगत मतभेद फैलाने का आरोप लगाते हुए हजरतगंज कोतवाली में अमिताभ और चैनल के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है।
ALSO READ:
CM योगी की चेतावनी, 'लव जिहाद' चलाने वाले नहीं सुधरे तो 'राम नाम सत्य है' की यात्रा शुरू होगी
महासभा के प्रदेश अध्यक्ष ऋषि त्रिवेदी, प्रदेश प्रवक्ता पंकज तिवारी, कार्यकारिणी सदस्य विकास पांडेय समेत कई नेता शनिवार को हजरतगंज कोतवाली पहुंचे और केबीसी की निर्माता कंपनी और अभिनेता के खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई की मांग की।
ऋषि त्रिवेदी ने पत्रकारों को बताया कि 30 अक्टूबर को प्रसारित हुए केबीसी के शो में सवाल पूछा गया था कि 25 दिसंबर 1927 को डॉ. बीआर आम्बेडकर और उनके अनुयायियों ने किस धर्मग्रंथ की प्रतियां जलाई थीं। यहीं नहीं, बल्कि इस सवाल को लेकर सोशल प्लेटफार्म पर सवाल उठाए जा रहे हैं। इस तरह का अनावश्यक सवाल पूछ कर हिन्दू समाज को जातिगत मतभेद फैलाने और भड़काने का काम किया गया है जिसे महासभा कतई बर्दाश्त नहीं करेगी।
उन्होंने कहा कि वैमन्यस्ता की सोच रखने वालों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कानूनी कार्रवाई हो ताकि भविष्य में सुनिश्चित किया जाए कि इस तरीके से समाज को बांटने वाले अनावश्यक प्रश्न और धारावाहिक फिल्मों या किसी भी प्रकार के कार्यक्रमों के दौरान न पूछे जाएं न दिखाए जाएं जिससे समाज में शांति-व्यवस्था कायम रहे और आपस में वैमनस्यता न बढ़े। (वार्ता)



और भी पढ़ें :