0

इस फादर्स डे को बना दें यादगार इन खास डिशेज से, पढ़ें 4 आसान रेसिपीज

गुरुवार,जून 17, 2021
0
1
स्पाइसी काबुली चना चाट बनाने के लिए सबसे पहले चने या छोले को 5 से 6 घंटे के लि‍ए भि‍गोकर रखें। थोड़े से नमक और चुटकी भर सोड़े के साथ चने को पकाएं।
1
2
फ्रिज के अंदर बहुत अधिक सामान होने से बदबू आने लगती है। कई बार फ्रिज का गेट खोलते ही हम फ्रिज से एकदम दूर भाग जाते हैं, क्योंकि बदबू इतनी अधिक होती है।
2
3
विनायक, अंगारकी, संकष्टी या कोई सी भी चतुर्थी हो, श्री गणेश को मोदक और लड्‍डू का भोग अवश्‍य लगाना चाहिए। इससे प्रसन्न होकर श्री गणेश अपने भक्तों की हर मनोकामना पूर्ण करते हैं।
3
4
एक कड़ाही में, नारियल, काजू, पिस्ता व शकर डालें तथा दूध डाल कर पकाते रहें। मावा जैसा गाढ़ा होने लगे तो आंच से उतारें व इलायची मिला लें।
4
4
5
रवा उत्तपम बहुत स्वादिष्ट और हेल्दी होता है। यह पचाने में आसान होता है। रवा उत्तपम कार्बोहाइड्रेट का अच्छा स्रोत है।
5
6
10 जून वट सावित्री पर्व को मनाया जा रहा है। वट सावित्री व्रत के दिन वट की पूजा के लिए गुलगुले, पूड़ी, खीर, हलवा, पंचामृत आदि बनाने के विधान है।
6
7
चावल व पोहा अलग-अलग धोकर पर्याप्त पानी रखकर 6-7 घंटे तक भीगने दें फिर इन्हें पीसकर दही व नमक डालकर पेस्ट बना लें। इसमें चुटकीभर सोडा भी डाल दें।
7
8
भारतीय लोगों की नाश्ते में पहली पसंद पोहा होती है। मालवा में इसे बड़े चाव से खाया जाता है। इतना ही नहीं कई लोग शाम को भी खाने में पोहे खाते हैं। हालांकि पोहे को स्वादिष्ट बनाने के
8
8
9
7 जून, आज पोहा दिवस है। पोहा अधिकतर लोगों के पसंदीदा व्यंजन में शुमार है। पोहा कई तरह से बनाया जाता है। पोहे के कई तरह के अलग-अलग व्यंजन भी बनाए जाते हैं। खासकर इंदौर के खान-पान में शामिल फेमस पोहा इंदौरवासियों की जान है और अगर उसके साथ जलेबी मिल ...
9
10
अभी कोरोना संक्रमण हर तरफ फैला हुआ है और कोरोना आप पर तभी हावी होता है, जब आपकी इम्युनिटी कमजोर हो। अत: गर्मी के इन दिनों में प्याज और कच्ची कैरी का यह कचूमर
10
11
बूंदी के लड्‍डू बनाने के लिए सबसे पहले बेसन को छान लें। उसमें चुटकी भर मीठा पीला रंग मिलाइए और पानी से घोल तैयार कर लीजिए।
11
12
खीर बनाने से एक-दो घंटे पूर्व चावल धोकर पानी में गला दें। दूध को मोटे तले वाले बर्तन में डालकर गैस पर चढ़ा दें। दूध में चार-पांच उबाल आने पर चावल का पूरा पानी
12
13
खसखस का इस्तेमाल स्वाद और सेहत से भरपूर है, इसलिए स्वास्थ्य समस्याओं को दूर करने के लिए इसे दवा के रूप में प्रयोग करते हैं। पौष्ट‍िकता से भरपूर खसखस का उपयोग
13
14
हलवा पचने में बहुत हल्का होता है, इसलिए इसे सर्जरी के बाद, प्रसव के बाद, कमजोरी में, बीमारी से उबरने में और कम वजन वाले लोगों को भी दिया जा सकता है।
14
15
सबसे पहले पानी उबाल कर, उसमें चाय पत्ती डालें व पुनः उबालें। इस उबले हुए पानी को शकर डालकर ठंडा कर लें।
15
16
अगर आपकी प्रतिरोधक क्षमता में कमी आ गई है और आप बार-बार सर्दी, खांसी, जुकाम या बुखार से पीड़ित हो रहे हैं तो आपको जरूरत है इस खास आयुर्वेदिक चाय की। तुलसी और अन्य मसालों से बनी ये चाय तेजी से आपकी प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाएगी......
16
17
मल्टी ग्रेन यानी मिक्स दाल का आटा सेहत के लिए पौष्टिक होता है। मल्टीग्रेन आटे की रोटियां खाने से रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ती है।
17
18
कोरोना महामारी के कारण बच्चे करीब डेढ़ साल से अपने घर में ही है। पढ़ाई भी ऑनलाइन ही चल रही है। साथ ही गर्मी का मौसम है और ऐसे समय में कुछ ठंडा खाने का मन जरूर करता है। इसी के साथ चल रही गर्मी की छुट्टियों में बच्चे कुछ ना कुछ जरूर सीखते हैं। इस बार ...
18
19
गर्मी के मौसम में कुछ ठंडा पीने-खाने का मन जरूर करता है। लेकिन कोरोना काल में सेहत का ध्यान रखना भी जरूरी है। ऐसे में आप घर पर पौष्टिक
19