शरद पवार का कांग्रेस नेतृत्व पर हमला...

WD|
FILE
नई दिल्ली। चार राज्यों में विधानसभा चुनावों में मिली करारी हार के बाद नेतृत्व पर करारा प्रहार करते हुए संप्रग के सहयोगी दल राकांपा के मुखिया ने सोमवार को कहा कि लोग कमजोर शासक नहीं चाहते बल्कि दिवंगत प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की तरह ‘मजबूत और निर्णायक’ नेता चाहते हैं और युवाओं ने अपने मतों के जरिए अपने गुस्से का इजहार किया है।

विधानसभा चुनावों में कांग्रेस का आधार काफी सिमटने पर गौर करते हुए उन्होंने कहा कि चुनावों ने सवाल खड़े किए हैं जिस पर न सिर्फ कांग्रेस को बल्कि हम सबको गंभीरता से विचार करने की आवश्यकता है। पवार संप्रग के पहले नेता हैं, जिन्होंने चार राज्यों में कांग्रेस की करारी शिकस्त के बाद अपने मन की बात सामने रखी है।

पवार ने एक वक्तव्य में कहा कि लोग मजबूत, निर्णायक और परिणामोन्मुख नेता चाहते हैं। वे कमजोर शासक नहीं चाहते बल्कि ऐसा नेता चाहते हैं, जो गरीबों के लिए नीतियां और कार्यक्रम तैयार करे और उसे दृढ़ता के साथ लागू करे।

शरद पवार ने क्या बताई हार की वजह... पढ़ें अगले पेज पर....





और भी पढ़ें :