शिवराज ने की राजनाथ और सिंधिया से मुलाकात, इन विषयों पर हुई चर्चा...

Last Updated: सोमवार, 12 जुलाई 2021 (18:43 IST)
नई दिल्ली। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को यहां रक्षामंत्री और नागर विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया से की और राज्य की अनेक अवसंरचना परियोजनाओं से जुड़े विषयों पर उनसे चर्चा की।
चौहान ने एक ट्वीट में कहा कि उन्होंने सिंह के साथ जबलपुर में एक रक्षा क्लस्टर के निर्माण पर चर्चा की। मुख्यमंत्री ने कहा, इस रक्षा क्लस्टर के निर्माण से सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग (एमएसएमई) सेक्टर में और महाकौशल क्षेत्र के अन्य तकनीकी संस्थानों में प्रत्यक्ष और परोक्ष रोजगार के अवसर सृजित होंगे।

चौहान ने रक्षामंत्री से रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) की मदद से जबलपुर इंजीनियरिंग कॉलेज में एम.टेक. का एक पाठ्यक्रम शुरू करने में मध्य प्रदेश की मदद करने का अनुरोध भी किया। डीआरडीओ रक्षा मंत्रालय के अधीन काम करता है।

चौहान ने सिंधिया से भी मुलाकात की और नागर विमानन मंत्री बनने पर उन्हें बधाई दी। सिंधिया मध्य प्रदेश से ही राज्यसभा सदस्य हैं। चौहान ने ट्वीट किया, मुझे विश्वास है कि आपके कुशल मार्गदर्शन में विमानन क्षेत्र में अभूतपूर्व उन्नति होगी और यह क्षेत्र नई ऊंचाइयों को छूएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने सिंधिया के साथ इंदौर, भोपाल और जबलपुर के हवाईअड्डों के विस्तार, ग्वालियर में नए हवाईअड्डे के निर्माण और भोपाल हवाईअड्डे को अंतरराष्ट्रीय विमानपत्तन बनाने के प्रस्ताव पर चर्चा की।
ALSO READ:

IMA ने दी चेतावनी, संभल जाओ, करीब आ रही कोरोना की ‘तीसरी लहर’
चौहान और सिंधिया ने इंदौर से अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को बढ़ावा देने तथा रीवा, खजुराहो, दतिया, ग्वालियर, भोपाल तथा जबलपुर से ‘उड़ान’ योजना के तहत उड़ानें शुरू करके राज्य में हवाई संपर्क को विस्तार देने के विषय पर भी चर्चा की।
चौहान ने ट्वीट किया, ज्योतिरादित्य सिंधिया जी ने जरूरी फैसला लेने का आश्वासन दिया है, जिसके लिए मैं उनका शुक्रिया अदा करता हूं। चौहान से मुलाकात के बाद सिंधिया ने ट्विटर पर लिखा कि दोनों नेता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कुशल नेतृत्व में राज्य को विकास के पथ पर आगे बढ़ाने के लिहाज से मिलकर काम करने को तैयार हैं।(भाषा)



और भी पढ़ें :