1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. राष्ट्रीय
  4. Security forces killed terrorist who killed 5 BJP leaders and police inspector
पुनः संशोधित शुक्रवार, 24 दिसंबर 2021 (19:46 IST)

5 भाजपा नेताओं और पुलिस इंस्पेक्टर के हत्यारे आतंकी को सुरक्षाबलों ने किया ढेर

जम्मू। सुरक्षाबलों को आज अनंतनाग में उस आतंकी को मारने में कामयाबी मिली है, जिसने 3 भाजपा नेताओं, भाजपा के 2 सरपंचों और पुलिस के एक इंस्पेक्टर की हत्या की थी। दूसरी ओर बड़गाम में एक बड़े तलाशी अभियान में कई गांवों को घेरे में लेकर आतंकियों से बाहर निकलने की अपील की जा रही थी, जबकि बड़गाम में ही लश्करे तैयबा के 2 आतंकियों को हथियारों संग धर लिया गया था।

अनंतनाग मुठभेड़ में सुरक्षाबलों द्वारा मारे गए एक आतंकवादी की पहचान शहजाद के रूप में हुई है। यह हिजबुल मुजाहिदीन आतंकी संगठन से संबंध रखता था। मृतक आतंकवादी पहले घाटी में हुई कई हत्याओं में शामिल था और वह जम्मू-कश्मीर के कुलगाम जिले का रहने वाला था।

जम्मू-कश्मीर पुलिस के अधिकारियों के अनुसार, दक्षिण कश्मीर के मुमन्हल (अरवानी) इलाके में शुक्रवार तड़के मुठभेड़ शुरू हो गई। साथ ही मारे गए आतंकी के पास से उसके शव के साथ एक एके-47 और एक पिस्टल भी बरामद हुई है।

सूत्रों के अनुसार, इलाके में गुप्त सूचना के आधार पर एक तलाशी और घेरा अभियान शुरू किया गया था। आतंकियों को आत्मसमर्पण करने का मौका दिया गया था, हालांकि सुरक्षाकर्मियों पर गोलियां चलाईं। सूत्रों के मुताबिक जारी मुठभेड़ में एक और आतंकवादी निशाने पर है।

बड़गाम में तलाशी अभियान
बड़गाम जिले के बीरवाह मुख्य बाजार में शुक्रवार दोपहर बाद पुलिस और सुरक्षाबलों ने संयुक्त रूप से बड़ा तलाशी अभियान छेड़ दिया है। घर-घर की तलाशी ली जा रही है। सुरक्षाबलों को बाजार में आतंकियों के छिपे होने की पक्की सूचना मिली है। सुरक्षाबलों ने स्थानीय लोगों को भी सावधान कर दिया है। किसी भी समय यहां मुठभेड़ शुरू होने की आशंका बन रही है।

दरअसल, शुक्रवार दोपहर को सुरक्षाबलों को बड़गाम के अति व्यस्त बीरवाह बाजार में आतंकियों की गतिविधि की सूचना मिली। सूचना मिलते ही स्थानीय पुलिस, सेना और सीआरपीएफ के जवानों ने बीरवाह बाजार को घेर लिया। देखते ही देखते सघन तलाशी अभियान छेड़ दिया। एक-एक घर को खंगाला जा रहा है।

सुरक्षाबलों की अचानक इस कार्रवाई से स्थानीय लोग मुठभेड़ होने की आशंका से खौफजदा हो गए। लेकिन सुरक्षाबल आम नागरिकों को किनारे कर तलाशी ले रही है ताकि मुठभेड़ होने की स्थिति में आम नागरिकों को नुकसान न हो।

लश्कर के 2 आतंकी पकड़े
लश्कर-ए-तैयबा के दो ओवरग्राउंड वर्कर्स यानी ओजीडब्ल्यू को हथियारों का जखीरा समेत गिरफ्तार कर लिया गया। पकड़े गए ओवरग्राउंड वर्कर्स से पूछताछ की जा रही है। बताया जा रहा है कि वे दोनों हथियारों की इस खेप को आतंकियों तक पहुंचाने वाले थे, लेकिन समय रहते आतंकियों के इस मंसूबे को विफल कर दिया गया।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक, मध्य कश्मीर के बड़गाम जिले में पुलिस को एक गुप्त सूचना मिली कि दो युवक हथियारों की खेप के साथ कहीं जा रहे हैं। वे किसी आतंकी वारदात की साजिश का हिस्सा लग रहे हैं।

सूचना मिलते ही पुलिस ने सेना और सीआरपीएफ के जवानों के साथ बताए गए चाडूरा इलाके में तलाशी अभियान छेड़ दिया। इस दौरान दो युवकों को पकड़ा गया। उनके पास एक बैग था। उस बैग में दो ग्रेनेड, एक एसॉल्ट राइफल, उसके दो मैगजीन और 30 कारतूस थे।
ये भी पढ़ें
Night Curfew : महाराष्ट्र, यूपी, गुजरात और हरियाणा समेत इन राज्यों में लागू हुआ 'नाइट कर्फ्यू'