1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. राष्ट्रीय
  4. possibility of major earthquake in the Himalayan region
Written By
पुनः संशोधित: गुरुवार, 22 अक्टूबर 2020 (16:13 IST)

बड़ा खुलासा, हिमालय क्षेत्र में बड़े भूकंप आने की आशंका

नई दिल्ली। हिमालय पर्वतमाला में बड़े भूकंप आने की आशंका है और भविष्य में अगले बड़े भूकंप की तीव्रता 8 या इससे अधिक रह सकती है और बहुत संभावना है कि यह हमारे और आपके ही जीवनकाल में ही आए। एक अध्ययन में यह बात सामने आई है। 
 
अध्ययनकर्ताओं ने कहा है कि इस तरह की प्राकृतिक आपदा के आने से इस घनी आबादी वाले देश में जानमाल की अभूतपूर्व क्षति हो सकती है।
 
अध्ययन में इस बात का जिक्र किया गया है कि भविष्य में हिमालय पर्वतमाला में आने वाला भूकंप 20 वीं सदी में ‘अलेउटियन सबडक्शन जोन’ में आए भूकंप के समान हो सकता है, जिसका विस्तार अलास्का की खाड़ी से सुदूर पूर्व रूस के कामचटका तक था।
 
अगस्त महीने में सेस्मोलॉजिकल रिसर्च लेटर्स में प्रकाशित समीक्षा में मूलभूत भूगर्भीय सिद्धांतों का इस्तेमाल कर पूर्व ऐतिहासिक भूकंपों के आकार और समय का आकलन किया गया तथा भविष्य के खतरों का अनुमान लगाया गया।
 
अध्ययन के लेखक स्टीवन जी वेस्नौस्की ने बताया कि समूची हिमालय पर्वतमाला, पूर्व में अरुणाचल प्रदेश से लेकर पश्चिम में पाकिस्तान तक अतीत में बड़े भूकंपों का स्रोत रही है।
 
भू-गर्भ विज्ञान एवं भूकंप विज्ञान के प्राध्यापक तथा अमेरिका में रेनो स्थित नेवादा विश्वविद्यालय के सेंटर फॉर नियोटेक्टोनिक स्टडीज के निदेशक वेस्नौस्की ने कहा कि ये भूकंप फिर से आएंगे और इसमें आश्चर्य नहीं है कि अगला बड़ा भूकंप हमारे जीवनकाल में ही आएगा।
भूकंप विज्ञानी एवं भारतीय विज्ञान शिक्षा एवं अनुसंधान संस्थान के प्राध्यापक सुप्रियो मित्रा ने इस बात का जिक्र किया कि अध्ययन पूर्व में किए गए अध्ययनों से मिलता जुलता है। उन्होंने बताया कि अध्ययन के मुताबिक हिमालय में स्थित भ्रंश 8 से अधिक तीव्रता वाला भूकंप ला सकता है।
 
वेस्नौस्की ने कहा कि चंडीगढ़ और देहरादून तथा नेपाल के काठमांडू जैसे बड़े शहर हिमालय में आने वाले भूकंप के प्रभाव क्षेत्र के नजदीक हैं। उन्होंने कहा कि इस तरह के बड़े भूकंप के दायरे में हिमालय और दक्षिण में स्थित राजधानी दिल्ली भी आ सकती है। (भाषा)