लंबू के बाद अब पाकिस्तानी बाबर को भी सुरक्षाबलों ने जहन्नुम पहुंचाया

सुरेश एस डुग्गर| पुनः संशोधित मंगलवार, 3 अगस्त 2021 (16:31 IST)
हमें फॉलो करें
जम्मू। कश्मीर में स्थानीय आतंकियों को ताबड़ तोड़ ढेर करने के बाद अब पाकिस्तानी नागरिकों की शामत आ गई है। सुरक्षाबलों ने अब भाड़े के सैनिकों अर्थात विदेशी आतंकियों को मार गिराने की जो मुहिम छेड़ी है, उसके तहत दो दिनों में दो खतरनाक विदेशी आतंकियों को मार गिराया है। दो दिन पहले पुलवामा के सूत्रधार लंबू को मार डाला गया था और मंगलवार को उस बाबर को मार गिराया गया, जिसका कद आतंकी गुटों में लंबू की ही तरह का माना जाता था।

अधिकारियों ने बताया कि बांदीपोरा के चंदाजी इलाके में सुरक्षाबलों ने आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के को मार गिराया है। अभी भी इलाके में सुरक्षाबलों का सर्च ऑपरेशन जारी है। आतंकवादी के मारे जाने की पुष्टि करते हुए डीजीपी दिलबाग सिंह ने बताया कि गत 23-24 की रात को बांडीपोरा के शोकबाबा के जंगलों में सुरक्षाबलों ने पाकिस्तानी आतंकवादी सारिक अल्ताफ समेत लश्कर-ए-तैयबा के तीन आतंकवादियों को मार गिराया था। उस दौरान यह आतंकी वहां से वहां से फरार होने में सफल रहा।
पुलिस को इलाके में आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिली थी। जिसके आधार पर पुलिस, सीआरपीएफ और सेना ने मिलकर तलाशी अभियान शुरू किया। इसी दौरान आतंकियों ने फायरिंग शुरू कर दी। जवाबी कार्रवाई के साथ ही सुरक्षाबलों को आत्मसमर्पण करने का मौका भी दिया, जिसे आतंकियों ने ठुकरा दिया।

सुरक्षाकर्मी उसी दौरान से आतंकी की तलाश में अपना सर्च ऑपरेशन जारी रखे हुए थे। मंगलवार तड़के सुरक्षाबलों को सूत्रों से चांदजी इलाके में आतंकियों के देखे जाने की सूचना मिली। पुलिस की एक टीम, सेना की 26 असम और सीआरपीएफ के एक संयुक्त दल के साथ इलाके में पहुंची और आतंकवादियों की तलाश में अभियान शुरू कर दिया।
आतंकी ने सुरक्षाबलों को अपने नजदीक आते देख उन पर गोलियां चलाना शुरू कर दी। सुरक्षाबलों ने जवाबी कार्रवाई से पहले पाकिस्तानी आतंकवादी को आत्मसमर्पण करने के लिए भी कहा गया परंतु वह नहीं माना। जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने आतंकवादी को मार गिराया।

(फाइल फोटो)



और भी पढ़ें :