बारिश: कई राज्यों में अलर्ट, कई राज्‍यों में भारी बारिश की चेतावनी

Last Updated: रविवार, 4 जुलाई 2021 (12:23 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली, उत्तरप्रदेश से बिहार होते हुए गंगीय पश्चिम बंगाल होकर असम तक एक ट्रफ रेखा जा रही है। साथ ही एक अन्य ट्रफ रेखा उत्तर पूर्व बिहार से आंतरिक ओडिशा तक जा रही है। इसके प्रभाव से बिहार के उत्तरी एवं दक्षिणी पश्चिम भाग में मध्यम से भारी बारिश होने की संभावना है।

बिहार के शेष भाग में हल्की से मध्यम वर्षा संभावित है। मौसम विभाग ने आज भी दिल्ली में आंशिक रूप से बादल छाए रहने और हल्की बारिश होने का अनुमान जताया है। दिल्ली, पंजाब के कई हिस्सों में हल्की वर्षा होगी। इस दौरान गर्मी से राहत मिलेगी।

इधर, उत्तर प्रदेश, बिहार के नेपाल से सटे हिस्से, बंगाल, झारखंड, ओडिशा में भी तेज मूसलाधार वर्षा होने की संभावना है। इस दौरान बिजली भी गिरने की संभावना है, जिससे सावधान रहना होगा। स्काईमेट वेदर के अनुसार छत्तीसगढ़ में मध्यम तो मध्य प्रदेश में तेज बारिश हो सकती है। दक्षिण पश्चिम मानसून के आगे बढ़ने के लिए प्रतिकूल परिस्थितियां नहीं होने के कारण राजस्थान के लोगों को फिलहाल गर्मी से राहत मिलने की संभावना कम ही है।

स्काईमेट वेदर के मुताबिक आज यानि रविवार को उत्तरी बिहार, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम, मेघालय और तटीय ओडिशा के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश होने की संभावना है। छत्तीसगढ़, पूर्वी मध्य प्रदेश, पूर्वी उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, रायलसीमा और उत्तरी तमिलनाडु में हल्की से मध्यम बारिश के साथ एक स्थानों पर तेज बारिश हो सकती है। पश्चिमी हिमालय, पंजाब के कुछ हिस्सों, हरियाणा, दिल्ली, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, केरल, तटीय कर्नाटक, कोंकण और गोवा, दक्षिण मध्य महाराष्ट्र के कुछ हिस्सों और आंतरिक कर्नाटक के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश संभव है। मराठवाड़ा, विदर्भ, तेलंगाना और उत्तरी राजस्थान में हल्की बारिश संभव है।

बिहार में मानसून की सक्रियता सामान्य बनी हुई है। सूबे के अधिकांश भाग में पिछले 24 घंटे में हल्की से मध्यम बारिश हुई, जबकि उत्तरी बिहार में कुछ जगहों पर अतिभारी बारिश दर्ज की गई है। उपग्रह से प्राप्त तस्वीरों और सांख्यिकीय गणना के आधार पर मौसम विज्ञान केंद्र पटना की ओर से बताया गया है कि अब तक राज्य के उत्तर बिहार की ओर बारिश की स्थिति मजबूत थी। अब राज्य के शेष भाग में भी बारिश और वज्रपात की परिस्थितियां बन रही हैं।

इसे देखते हुए अगले 48 घंटे में राज्य के सभी जिलों के लिए बारिश और वज्रपात का अलर्ट जारी किया गया है। उत्तर बिहार और दक्षिण पश्चिम बिहार के पश्चिम चंपारण, पूर्वी चंपारण, सीतामढ़ी, मधुबनी, दरभंगा, सुपौल, अररिया, किशनगंज, पूर्णिया, कटिहार जिलों में बारिश और वज्रपात की तीव्रता ज्यादा रहेगी। इसलिए 10 जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।



और भी पढ़ें :