19 जुलाई से शुरू होगा संसद का मानसून सत्र, कोविड नियमों का होगा पालन

parliament
Last Updated: सोमवार, 12 जुलाई 2021 (15:18 IST)
नई दिल्ली। का (2021) आगामी 19 जुलाई से आरंभ होगा और 13 अगस्त तक चलेगा।


लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कहा कि इस मानसून सत्र में 19 बैठकें होंगी। मानसून सत्र के दौरान कोविड-19 से संबंधित सभी नियमों का पालन किया जाएगा। दोनों सदनों में सत्र का समय सुबह 11 बजे से शाम 6 बजे तक होगा।

सत्र का आयोजन कोविड संबंधी दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए होगा और सामाजिक दूरी का ख्याल रखा जाएगा। दोनों सदनों की बैठक एक ही समय पर होगी।
लोकसभा अध्यक्ष बिरला ने कहा कि सदन में आरटीपीसीआर (RT-PCR) टेस्ट की सुविधा सभी सदस्यों और पत्रकारों के लिए 24 घंटे उपलब्ध रहेगी।

323 सांसदों का पूर्ण टीकाकरण हुआ : लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने सोमवार को कहा कि 19 जुलाई से आरंभ हो रहे संसद के मानसून सत्र के दौरान कोविड संबंधी सभी प्रोटोकॉल का पालन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि जिन लोगों का कोरोना वायरस रोधी टीकाकरण नहीं हुआ है उन्हें सत्र के दौरान संसद परिसर में प्रवेश से पहले आरटी-पीसीआर जांच करवाने को कहा जाएगा।

संसद भवन परिसर में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए बिरला ने कहा कि 323 सांसदों का कोविड रोधी पूर्ण टीकाकरण हो चुका है जबकि 23 सांसद कुछ चिकित्सीय कारणों के चलते टीके की पहली खुराक भी नहीं ले पाए हैं।

लोकसभा अध्यक्ष ने कहा कि दोनों सदनों की बैठक 11 बजे एक ही समय पर शुरू होगी। संसद का मानसून सत्र 19 जुलाई से शुरू हो रहा है और यह 13 अगस्त तक चलेगा। आमतौर पर जुलाई में शुरू होने वाला मानसून सत्र वैश्विक महामारी कोरोनावायरस के कारण पिछले वर्ष सितंबर में आरंभ हुआ था।



और भी पढ़ें :