LOC पर बढ़ा बैट हमलों का खतरा, पाक गोलाबारी से सीमावासी परेशान

सुरेश एस डुग्गर| Last Updated: बुधवार, 18 दिसंबर 2019 (21:36 IST)
जम्मू। दो बार सर्जिकल स्ट्राइक होने और एयर स्ट्राइक होने के बाद भी पर की बैट टीम की सक्रियता कम नहीं हुई है। बैट हमलों के बढ़ते खतरे के बीच पाक सेना ने अब और कई इलाकों में गोलों की बरसात आरंभ कर सीमावासियों का जीना मुहाल कर दिया है।
जानकारी के लिए वर्ष 2013 में बैट टीम ने पुंछ के मेंढर में एलओसी पर भारतीय जवान हेमराज का सिर काट लिया था। इसके बाद से लगातार बैट राजोरी और पुंछ जिलों की एलओसी पर सक्रिय है। सूत्रों का कहना है कि सर्दी का मौसम आते ही बैट टीम अधिक सक्रिय हो जाती है। घने कोहरे की आढ़ में बैट टीम हमला करती है। ऐसे ही कई हमलों की प्लानिंग बैट टीम कर रही है। बैट टीम वर्ष 2013 की घटना को दोहराने की नापाक साजिश रच रही है।
पुंछ जिले में बैट के हमले करने की अधिक संभावना है। क्योंकि दो बार बैट इस तरह की घटना को अंजाम दे चुकी है। हालांकि इंटरनेशनल बार्डर पर भी इसकी संभावना को देखकर सतर्कता बढ़ाई गई है क्योंकि पाकिस्तान की टीम ने सांबा में भी बीएसएफ के एक जवान के साथ इसी तरह की क्रूरता की थी।

सूत्रों का कहना है कि आने वाले दिनों में पुंछ जिले की एलओसी के बलनोई नाले पर फिर से बैट हमला हो सकता है। उस पार बैठी बैट टीम के सदस्य इस वारदात को अंजाम देने की घात लगाकर बैठे हुए हैं।
इस बीच बैट हमले के खतरे के बीच पाकिस्तानी सेना ने जम्मू कश्मीर के सीमांत कुपवाड़ा जिले के करनाह सेक्टर में पिछले 24 घंटे के दौरान संघर्ष विराम का उल्लंघन कर गोलाबारी की तथा अग्रिम चौकियों एवं रिहाइशी इलाकों को निशाना बनाया।

आधिकारिक सूत्रों ने बुधवार को बताया कि पाकिस्तानी सेना ने बगैर किसी उकसावे के करनाह सेक्टर में पिछले 24 घंटे के दौरान स्वचालित हथियारों से गोलाबारी की तथा मोर्टार से गोले दागे। करनाह सेक्टर में हिमपात एवं सड़कों पर फिसलन होने के कारण पिछले एक सप्ताह से जिला मुख्यालय से संपर्क टूटा हुआ है।
भारतीय सेना ने भी पाकिस्तान को मुंहतोड़ एवं करारा जवाब दिया तथा नियंत्रण रेखा के पार स्थित पाकिस्तानी चौकियों को निशाना बनाया। पाकिस्तान की गोलाबारी से तीन मकान क्षतिग्रस्त हुए हैं। इस घटना मेें किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है।

सूत्रों ने बताया कि पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में मौजूद आतंकवादियों को सीमा पार घुसपैठ कराने के लिए पाकिस्तानी सेना इस प्रकार संघर्ष विराम का उल्लंघन कर रही है। पाक के कब्जे वाले कश्मीर में स्थित लांच पैड पर बड़ी संख्या में आतंकवादी में घुसपैठ करने के इरादे से एकत्र किए गए हैं।
पाकिस्तान की ओर से किसी प्रकार के घुसपैठ को रोकने के लिए भारतीय सेना के जवान खराब मौसम के बावजूद संवेदनशील स्थानों पर तैनात हैं तथा वे उनके किसी भी प्रयास को विफल करने को लेकर चौकस हैं।




और भी पढ़ें :