बाबुल सुप्रियो की नाराजगी के बाद जितेंद्र तिवारी का यू-टर्न, ममता से माफी मांगने को तैयार

Last Updated: शनिवार, 19 दिसंबर 2020 (07:39 IST)
कोलकाता। में सत्तारूढ़ टीएमसी को छोड़ने के एक दिन बाद, विधायक जितेंद्र तिवारी ने शुक्रवार को अपना सुर बदलते हुए पार्टी के शीर्ष नेता से मिलने की इच्छा व्यक्त की। भाजपा में उनके शामिल होने की अटकलों के बीच केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो ने इसका विरोध किया है।

जितेंद्र तिवारी ने माफी मांगकर पार्टी में वापसी कर ली है। तिवारी ने ममता सरकार में मंत्री अरूप विश्वास से मुलाकात के बाद कहा कि मैं टीएमसी के साथ हूं और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से माफी मांगूंगा।

आसनसोल नगर निकाय के प्रमुख तिवारी ने पार्टी के पूर्व नेता शुभेन्दु अधिकारी के नक्शेकदम पर चलते हुए गुरुवार को टीएमसी छोड़ दी थी।
नेताओं के करीबी सूत्रों ने संकेत दिया था कि वे जल्द ही भाजपा में शामिल हो सकते हैं, लेकिन लगता है कि तिवारी के लिए राह आसान नहीं है, क्योंकि सुप्रियो और अन्य भाजपा नेताओं ने भगवा पार्टी में उनके शामिल होने का विरोध किया है।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि वह यह सुनिश्चित करने की पूरी कोशिश करेंगे कि भाजपा कार्यकर्ताओं पर ‘अत्याचार’ करने वाले टीएमसी नेताओं को उनकी पार्टी में शामिल न किया जाए।



और भी पढ़ें :