Kashmir Target Killings पर एक्शन में सरकार, अमित शाह की बड़ी बैठक, IB, NIA, सेना व CRPF के बड़े अधिकारी कश्मीर में कर रहे हैं कैंप

पुनः संशोधित सोमवार, 18 अक्टूबर 2021 (14:07 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। में नागरिकों की हत्या की बढ़ती घटनाओं के बीच सरकार में है। खबरों के मुताबिक राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दे पर सभी राज्यों के डीजीपी और आईजी के साथ बैठक कर रहे हैं। इसमें राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल भी बैठक में शामिल है।
जम्मू कश्मीर में टारगेटेड किलिंग मामले में की पैनी नजर बनाए हुए हैं। गृह मंत्रालय सूत्रों के मुताबिक गृह मंत्रालय ने सीआरपीएफ के डीजी कुलदीप सिंह को जम्मू कश्मीर भेजा है। कुलदीप सिंह NIA के भी डीजी हैं। खबरों के मुताबिक जम्मू कश्मीर में IB, NIA, सेना, CRPF के सीनियर अधिकारी इस समय कैम्प कर रहे हैं।
सुरक्षाबलों और आतं‍कियों के बीच मुठभेड़ : जम्मू-कश्मीर में पुंछ जिले के मेंढ़र के जंगलों में छिपे हुए आतंकवादियों तथा सुरक्षा बलों के बीच सोमवार को मुठभेड़ हुई। सूत्रों ने कहा कि प्राप्त सूचना के मुताबिक तीन से चार आतंकवादी मुठभेड़ में शामिल हैं।” आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि सेना, पुलिस तथा अर्ध सैनिक बलों के जवानों की संयुक्त टीम मेंढर में नर खास के जंगलों में तलाश अभियान चला रहे हैं। आतंकवादियों का पता लगाने के लिए हेलिकटप्टरों का भी इस्तेमाल किया जा रहा है।

सूत्रों ने कहा, “आतंकवादी घने जंगलों में छिपे हुए हैं और रूक-रूक कर गोलीबारी कर रहे हैं, जिनका सुरक्षा बलों के जवान माकूल जवाब दे रहे हैं।” सूत्रों ने बताया कि सेना के जवाब सावधानी पूर्वक आगे बढ़ रहे हैं क्योंकि भारी हथियारों से लैस आतंकवादी जंगलों में छिपे हुए हैं।

11 अक्टूबर से अब तक आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ में दो जेसीओ सहित सेना के नौ जवान शहीद हुए हैं। घना जंगल होने की वजह से आतंकवादियों के खिलाफ अभियान चलाने में सुरक्षा बलों को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। सूत्रों के मुताबिक सुरक्षा बलों ने कथित तौर पर आतंकवादियों की सहायता करने के संदेह में दो लोगों को हिरासत में लिया है।

सूत्रों ने कहा कि खुफिया सूचना के आधार पर तलाश अभियान के दौरान लोगों को भारी हथियारों से लैस आतंकवादियों के एक समूह को खाद्य पदार्थ तथा आश्रय मुहैया कराने के आरोप में दो लोगों को हिरासत में लिया गया है। ज्यादा जानकारी हासिल करने के लिए हिरासत में लिए गए लोगों से पूछताछ की जा रही है। पुंछ जिला मुख्यालय को राजौरी तथा जम्मू से जोड़ने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग को भीम्बर गली तथा जरान वाली गली में रविवार तक बंद रहने के बाद सोमवार को आंशिक तौर पर खोल दिया गया।



और भी पढ़ें :