रविवार, 21 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. राष्ट्रीय
  4. Chinar Corps's accounts were deactivated by Facebook and Instagram
Last Modified: बुधवार, 9 फ़रवरी 2022 (20:25 IST)

1 सप्ताह तक कश्मीर की हकीकत से बेखबर रही दुनिया, Facebook और Instagram ने डिएक्टिवेट कर दिए थे चिनार कोर के अकाउंट

1 सप्ताह तक कश्मीर की हकीकत से बेखबर रही दुनिया, Facebook और Instagram ने डिएक्टिवेट कर दिए थे चिनार कोर के अकाउंट - Chinar Corps's accounts were deactivated by Facebook and Instagram
जम्मू। एक सप्ताह तक दुनिया कश्मीर की हकीकत से पूरी तरह से बेखबर रही है क्योंकि फेसबुक और इंस्टाग्राम ने चिनार कोर के अकाउंट डिएक्टिवेट कर दिए थे और अब एक सप्ताह से अधिक समय तक अस्पष्ट कारणों से निलंबित रहने के बाद, श्रीनगर स्थित चिनार कोर का इंस्टाग्राम अकाउंट बुधवार को एक्टिवेट कर दिया गया है।

कोर के फेसबुक और इंस्टाग्राम अकाउंट्स को सोशल मीडिया कंपनियों ने अस्पष्ट कारणों का हवाला देते हुए जनवरी के अंत तक निलंबित कर दिया था। भारतीय सेना की श्रीनगर स्थित चिनार कोर का इंस्टाग्राम अकाउंट एक हफ्ते से अधिक समय तक सस्पेंड रहने के बाद आज सक्रिय हो गया है।

सेना के अधिकारियों ने इसके प्रति कल ही बताया था कि कोर के फेसबुक और इंस्टाग्राम अकाउंट को बंद हुए लगभग एक सप्ताह से भी ऊपर हो गया, लेकिन आज इसे एक्टिवेट कर दिया गया। उन्होंने कहा कि हालांकि कोर का फेसबुक अकाउंट अभी भी बंद है और इसके जल्द सक्रिय होने की उम्मीद है, वे इसको लेकर फेसबुक के संबर्क में हैं। श्रीनगर स्थित चिनार कोर पाकिस्तान द्वारा प्रायोजित आतंकवाद और भारतीय सुरक्षाबलों के खिलाफ उसके दुष्प्रचार से लड़ने के लिए भारतीय सेना की मुख्य शाखा है।

यह पहली बार है कि सीमा पार से पाकिस्तान के दुष्प्रचार का मुकाबला करने व कश्मीर की सही स्थिति को लोगों तक पहुंचाने में अहम भूमिका निभा रही कश्मीर में सेना की चिनार कोर के फेसबुक व इंस्टाग्राम के अकाउंट को ब्लाक कर दिया गया। कश्मीर में स्थित चिनार कोर स्थानीय लोगों को सेना के समाज कल्याण के कार्यों के बारे में जागरूक भी करती है। कश्मीर में नियंत्रण रेखा की सुरक्षा का जिम्मा भी चिनार कोर के पास है।

पिछले एक सप्ताह से फेसबुक और इंस्टाग्राम ने अकाउंट ब्लाक करने का कोई जवाब नहीं दिया था। चिनार कोर के फेसबुक व इंस्टाग्राम के पेज से सीमा पार से होने वाले दुष्प्रचार का जवाब दिया जाता है और कश्मीर घाटी की सही स्थिति की जानकारी उपलब्ध करवाई जाती है।

एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि इस मामले को फेसबुक के समक्ष उठाया गया है लेकिन अभी तक वहां से कोई जवाब नहीं आया है। चिनार कोर के फेसबुक और इंस्टाग्राम के पेज पर संदेश पर पढ़ा जा रहा कि लिंक टूट रहा था और पेज हटाए गए थे।