दिल्ली में Bird Flu की इंट्री, अब तक देश के 9 राज्य आ चुके हैं चपेट में, संसदीय कमेटी ने बुलाई बैठक

Last Updated: सोमवार, 11 जनवरी 2021 (10:57 IST)
नई दिल्ली। दिल्‍ली (Delhi) में भी बर्ड फ्लू ने दस्‍तक दे दी है। भोपाल प्रयोगशाला भेजे गए सभी आठ नमूनों में संक्रमण की पुष्टि होने के बाद दिल्ली में ‘बर्ड फ्लू’ की पुष्टि हो गई है। विकास विभाग के तहत पशुपालन विभाग के डॉ. राकेश सिंह ने बताया कि मयूर विहार फेस-3 के पार्क से चार, संजय झील से तीन और द्वारका से भेजे एक नमूने में ‘एवियन इन्फ्लूएंजा’ संक्रमण की पुष्टि हुई है।
उन्होंने बताया कि नमूनों की रिपोर्ट सोमवार सुबह आई। अधिकारियों ने पहले बताया था कि मयूर फेस-3 के सेंट्रल पार्क में पिछले तीन से चार दिनों में करीब 50 कौवे मृत मिले हैं। दिल्ली की संजय झील को रविवार को 17 और बत्तखों के मृत पाए जाने के बाद 'अलर्ट जोन' घोषित कर दिया गया। दिल्ली विकास प्राधिकरण (डीडीए) ने इस मशहूर जलाशय तथा पार्क को 10 बत्तखों के मृत पाए जाने के बाद शनिवार को बंद कर दिया था। सिंह ने बताया कि कुछ नमूने जालंधर भी भेजे गए हैं और उनकी रिपोर्ट का इंतजार है।

देश में नौ राज्यों में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई। बर्ड के फैलते खतरे पर संसदीय कमेटी ने आज बैठक बुलाई है। दिल्ली के अलावा अब केरल, राजस्थान, मध्यप्रदेश, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, गुजरात और उत्तरप्रदेश, महाराष्ट्र में बर्ड फ्लू फैलने की पुष्टि हो चुकी है। महाराष्ट्र में 800 मुर्गियां मरी हुई मिली हैं। नमूनों को जांच के लिए भेजा गया था, जिसमें बर्ड फ्लू से मौत की पुष्टि हुई थी।
दैनिक रिपोर्ट भेजने का निर्देश : केंद्र ने राज्यों के चिड़ियाघर प्रबंधनों को निर्देश दिया कि वे केंद्रीय चिड़ियाघर प्राधिकरण को दैनिक रिपोर्ट भेजें और ऐसा तब तक जारी रखें जब तक कि उनके इलाके को रोगमुक्त घोषित नहीं कर दिया जाता।

पर्यावरण मंत्रालय के तहत आने वाले सीजेडए ने कार्यालयी ज्ञापन जारी कर कहा कि एवियन इन्फ्लुएंजा ‘पशुओं में संक्रामक रोगों की रोकथाम और नियंत्रण कानून, 2009’ के तहत अनुसूचित बीमारी है और इसे फैलने से रोकने के लिए इस तरह की बीमारी की जानकारी देना अनिवार्य है।



और भी पढ़ें :