शनिवार, 13 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. राष्ट्रीय
  4. After cold, now rain will wreak havoc
Last Updated : गुरुवार, 22 फ़रवरी 2024 (09:06 IST)

Weather Update: ठंड के बाद अब बरसेगा बारिश का कहर, हिमाचल में बर्फबारी से आवाजाही बंद

22 से 25 फरवरी तक बारिश की सिलसिला रहेगा

Weather Update: ठंड के बाद अब बरसेगा बारिश का कहर, हिमाचल में बर्फबारी से आवाजाही बंद - After cold, now rain will wreak havoc
Weather Update: देशभर में नित्य प्रति मौसम (Weather) लगातार बदल रहा है। वेस्टर्न डिस्टरबेंस से पहाड़ों पर बर्फबारी हो रही है तो मैदानी इलाकों में बारिश (rain) ने मौसम का मिजाज बदल दिया है। आईएमडी (IMD) के अनुसार उत्तर-पश्चिम भारत के कुछ क्षेत्रों में अगले 3 दिनों तक बारिश और ओलावृष्टि (hailstorm) की संभावना है। मौसम विभाग ने दिल्ली के कुछ हिस्सों में गुरुवार को आंशिक रूप से बादल छाए रहने का पूर्वानुमान व्यक्त किया है। उसके अनुसार गुरुवार को न्यूनतम और अधिकतम तापमान क्रमश: करीब 11 और 25 डिग्री सेल्सियस रह सकते हैं। हिमाचल में बर्फबारी से आवाजाही बंद हो गई है।
 
22 फरवरी से 25 फरवरी तक बारिश की सिलसिला : IMD के अनुसार 22 फरवरी से 25 फरवरी तक 15 क्षेत्रों में बारिश की सिलसिला जारी रहेगा, वहीं 5 राज्यों में कई इलाकों में ओलावृष्टि की चेतावनी जारी की गई है। फिलहाल बारिश और बर्फबारी का दौर जारी रहने वाला है। मौसम विभाग ने अपने पूर्वानुमान में स्पष्ट किया है कि देश की राजधानी दिल्ली में मौसम में महत्वपूर्ण बदलाव दिखेगा और बादल छाए रहेंगे। इस दौरान हल्की बारिश हो सकती है। हालांकि 22 फरवरी को बारिश की गतिविधि से इंकार किया गया है।
 
हिमाचल प्रदेश में बर्फबारी, बारिश से 387 मार्गों पर आवाजाही बंद : शिमला से मिले समाचारों के अनुसार हिमाचल प्रदेश के जनजातीय और पर्वतीय इलाकों पर एक बार फिर से बर्फबारी और बारिश होने के बाद बुधवार को लोगों ने कंपकंपाती ठंड का अनुभव किया और न्यूनतम तापमान में भारी गिरावट दर्ज की गई। राज्य आपात प्रतिक्रिया केंद्र ने बताया कि 4 राष्ट्रीय राजमार्ग सहित कुल 387 मार्गों पर बर्फबारी की वजह से वाहनों की आवाजाही बंद हो गई और बिजली के 895 ट्रांसफार्मर ठप पड़ गए।
 
लाहौल और स्पीति में सबसे ज्यादा 288 मार्गों पर आवाजाही बाधित हुई। वहीं चंबा और कुल्लू में क्रमश: 77 और 12 मार्गों पर वाहन नदारद दिखे। कोकसर और अटल टनल के इलाकों में 45 सेंटीमीटर बर्फबारी हुई, वहीं सिस्सू और कोठी में 30 सेंटीमीटर तक बर्फबारी दर्ज की गई। केलांग, कुसुमसेरी और भारमौर में क्रमश: 18 सेंटीमीटर, 15.3 सेंटीमीटर और आठ सेंटीमीटर बर्फबारी दर्ज की गई।
 
केंद्र के मुताबिक मनाली में सबसे अधिक 29 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। मनाली के बाद सलूनी, तिस्सा और चंबा में क्रमश: 25.3, 20 और 16 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई, वहीं सियोबाग और बैजनाथ में क्रमश: 11 और 8 मिलीमीटर बारिश हुई। पूरे क्षेत्र में न्यूनतम तापमान कुछ डिग्री तक गिर गया और कई स्थानों पर तापमान शून्य से नीचे दर्ज किया गया।
 
आपात केंद्र के मुताबिक कुसुमसेरी इलाका राज्य का सबसे ठंड स्थान रहा, जहां तापमान शून्य से 7.1 डिग्री नीचे तक गिर गया। वहीं सुमदो में तापमान शून्य से 2 डिग्री नीचे, भरमौर व कल्पा में शून्य से 1.2 डिग्री नीचे, नारकंडा में शून्य से 0.5 डिग्री नीचे, मनाली में शून्य से 0.1 डिग्री नीचे और शिमला में 2.9 डिग्री दर्ज किया गया।
 
पिछले कुछ दिनों में हुई बारिश से सर्दियों के मौसम में होने वाली बारिश की कमी 58 प्रतिशत से घटकर 34 प्रतिशत रह गई है। राज्य में 1 जनवरी से 21 फरवरी तक सामान्य वर्षा 158 मिलीमीटर के मुकाबले 104.2 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है। स्थानीय मौसम विज्ञान केंद्र ने अगले 4 दिनों के लिए निचले इलाकों और मध्य पहाड़ियों में शुष्क मौसम और गुरुवार एवं शनिवार को ऊंचाई पर स्थित अलग-अलग स्थानों पर बारिश या बर्फबारी की संभावना जताई है।
 
इन राज्यों में वर्षा की संभावना : बिहार के कई क्षेत्रों में मध्यम बारिश का पूर्वानुमान जारी किया गया है। 25 फरवरी तक यह सिलसिला जारी रहेगा जबकि झारखंड में भी कई क्षेत्रों में आसमान में बादल छाए रहेंगे। पश्चिम बंगाल में भी आसमान में बादल छाए रहेंगे। कुछ इलाके में हल्की बारिश देखी जा सकती है। राजस्थान सहित मध्यप्रदेश के कुछ क्षेत्रों में ओले गिरने का भी अलर्ट जारी किया गया है। हालांकि दक्षिणी राज्यों में मौसम खुशनुमा बना रहेगा।
 
एक पश्चिमी विक्षोभ पाकिस्तान और उससे सटे उत्तरी पंजाब और आसपास के इलाकों पर एक चक्रवाती परिसंचरण के रूप में बना हुआ है। प्रेरित चक्रवाती परिसंचरण अब पंजाब के ऊपर स्थित है और औसत समुद्र तल से 1.5 किमी ऊपर तक फैला हुआ है।
 
जेट स्ट्रीम हवाएं 170 नॉट तक की अधिकतम गति के साथ समुद्र तल से 12.6 किमी ऊपर उत्तर भारत पर लगातार चल रही हैं। उत्तरी बांग्लादेश पर एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है। ताजा पश्चिमी विक्षोभ 24 फरवरी से पश्चिमी हिमालय क्षेत्र के करीब पहुंचने की संभावना है।
 
कैसा रहेगा आज का मौसम? : स्काईमेट वेदर (skymet weather) के अनुसार आज बुधवार को पश्चिमी हिमालय क्षेत्र और अरुणाचल प्रदेश में हल्की से मध्यम बारिश और बर्फबारी के साथ कुछ स्थानों पर भारी बर्फबारी संभव है। पश्चिमी हिमालय पर बारिश और बर्फबारी की तीव्रता काफी कम हो जाएगी लेकिन अरुणाचल प्रदेश में 23 फरवरी तक जारी रहने की संभावना है।
 
उत्तरी पंजाब, उत्तरी हरियाणा, पश्चिमी उत्तरप्रदेश के कुछ हिस्सों और बिहार, गंगीय पश्चिम बंगाल, पूर्वी उत्तरप्रदेश, असम और मेघालय में कई स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश संभव है। नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, सिक्किम, झारखंड के कुछ हिस्सों, पूर्वोत्तर राजस्थान और उत्तरी मध्यप्रदेश में हल्की बारिश संभव है। 22 फरवरी तक हरियाणा और पंजाब का मौसम साफ हो जाएगा। केरल में कुछ स्थानों पर हल्की बारिश संभव है।
 
मध्यभारत में मौसम सुहाना रहने का अनुमान : मौसम विभाग ने जानकारी दी कि अगले 24 घंटों के दौरान उत्तर-पश्चिम भारत और आसपास के मध्य भारत में न्यूनतम तापमान में कोई महत्वपूर्ण बदलाव और उसके बाद 2-3 डिग्री सेल्सियस की गिरावट की संभावना नहीं है।
 
Edited by: Ravindra Gupta
ये भी पढ़ें
Petrol Diesel Prices: क्रूड ऑइल की कीमतों में आया उछाल, जानिए देश के महानगरों में ताजा भाव