0

शयन पाद संचालन : तोंद होगी गायब और पचने लगेगा खाना

मंगलवार,अक्टूबर 18, 2022
0
1
यदि आपकी तोंद निकली हुई है और बदन अकड़ा हुआ है तो यह आसन करना थोड़ा कठिन है। इस आसन को करने के पूर्व पहले सूर्य नमस्कार से शरीर को लचीला बनाएं। इस आसन को करने से आपकी छाती कबूतर के समान बाहर निकलकर चौड़ी हो जाती है।
1
2
Diabetes: डायबिटीज, मधुमेह या शुगर यह एक महामारी बन चुकी है। यह रोग अनियमित जीवनशैली, अत्यधिक रूप में बाहर का भोजन करने, अधिक चिंता करने या अनिद्रा के कारण होता है। डायबिटीज से पीड़ित लोगों को हार्ट अटैक और हार्ट स्ट्रोक का खतरा भी बढ़ जाता है। ...
2
3
Yogasan : गैस, अपच और कब्ज आजकल एक बहुत बड़ी समस्या बन गई है। अधिकतर लोग इससे पीड़ित हैं। इसका कारण अनियमित जीवन शैली और भोजन। एक्सरसाइज नहीं करना या पैदल नहीं चलना भी इस समस्या का एक कारण है। यदि व्यापरी है तो दिनभर दुकान पर बैठे रहते हैं और ...
3
4
प्रियंका ने बताया कि दरअसल, साल 2017 में उन्‍होंने खुद योग सीखना शुरू किया था और करीब दो साल बाद 2019 में उन्‍होंने इसमें निपुणता हासिल कर दूसरों को प्रशिक्षण देना भी शुरू कर दिया। वो कहती हैं, योग एक अदभुत उर्जा है, इसका अनुभव उन्‍हें दो साल में ...
4
4
5
International Yoga Day 2022: 21 जून 2022 विश्‍व योग दिवस के अवसार पर जानिए 10 ऐसे सरल योगासन जिन्हें करने से हर तरह के शारीरिक रोग और मानसिक रोग में लाभ मिलता है। यदि आपको शरीर में किसी भी प्रकार की कोई गंभीर समस्या नहीं है तो आप इन आसनों को आजमा ...
5
6
मन की बेचैनी को दूर करके मन को शांत रखना चाहते हैं तो योग दिवस पर आपके लिए हम लाए हैं मात्र 5 ऐसे उपाय जो आपकी मन की शांति को बढ़ा देंगे। World Yoga Day 2022
6
7
21 June Yoga Day: तोंद कम करने का एक बहुत ही आसान उपाय है कि आप सूर्य नमस्कार की चौथी स्टेप को दोनों ही बार से कम से कम 12 बार करें। यह बहुत ही सरल तरीका है। इसके अलावा आपके लिए योगा डे पर हम लाए हैं बहुत ही सरल 3 योगासन।
7
8
World yoga day 2022 : सिर के बल किए जाने की वजह से इसे शीर्षासन कहते हैं। आओ जानते हैं कि किस तरह शीर्षासन को सही तरीके से करें और क्या है इसके 10 फायदे।
8
8
9
21 june yoga day 2022 : 21 जून को 8वां योग दिवस मनाया जाएगा। योग और योगासन ने कोविड के काल में कई लोगों की जान बचाई है। योग से जहां एक स्वस्थ शरीर बनता है वहीं स्वस्थ मन भी। आओ जानते हैं कि योगासन आपको किस तरह से प्रभावित कर सकता है।
9
10
21 June Yoga Diwas : अगर लगातार डिप्रेशन बना रहता है तो मात्र 3 आसनों से मिलेगा लाभ... आजकल डिप्रेशन यानी अवसाद के कारण व्यक्ति में चिड़चिड़ापन, क्रोध, निराशा, हताशा और संकोच के भाव भी निर्मित होते हैं। ऐसे में योग के मात्र 3 आसन आपको रिलेक्स कर ...
10
11
21 जून 2022 विश्‍व योगा दिवस : योग हमें जहां शारीरिक रूप से सेहतमंद बनाता है वहीं वह मानसिक रूप से भी स्वस्थ करता है। 21 जून 2022 को 8वां योगा डे मनाया जाएगा। इसके पूर्व आप 5 सरल योगासन करना सीख लें।
11
12
Yoga Asanas for women : जिम या अखाड़े की कसरत से कहीं ज्यादा उत्तम है योग करना। योग हमारे शरीर को लचकदार बनाए रखने के साथ ही यौवन को भी बनाए रखता है। यदि आप महिला हैं तो आपके लिए बेस्ट हैं मात्र 3 योगासन। इन्हें मात्र 10 मिनट करेंगे तो हमेशा जवान ...
12
13
कसरत के बाद मांसपेशियों में दर्द के हो सकते हैं कई कारण
13
14
Yoga for Belly: वर्क फ्रॉम होम में निकल गई है तोंद। तोंद के चलते डायबिटीज, हार्टअटैक, किडनी, मूत्राशय, रीढ़ की हड्डी, कमर दर्द जैसे आदि कई रोगों का खतरा बढ़ जाता है। ऐसे में यहां दिए जा रहे 6 योगासन। शर्तिया आपकी तोंद कम हो जाएगी। उक्त सभी आसनों के ...
14
15
Health Benefits of Vajrasana yoga Pose : वज्रासन की तीन स्थितियाँ होती हैं। जब कोई वज्रासन की स्थिति में नहीं बैठ पाता, उसके वै‍कल्पिक रूप में अर्धवज्रासन है। इस अर्धवज्रासन में टाँगें मोड़कर एड़ियों के ऊपर बैठा जाता है तथा हाथ को घुटनों कर रखा जाता ...
15
16
पूरी दुनिया में बाबा रामदेव से पहले शायद योग के बारे में और उसके महत्व के बारे में कोई नहीं जानता था। कहा जाता है योग 5000 वर्ष पूर्व से भारत में किया जा रहा है। लेकिन योग गुरु के नाम से मशहूर बाबा रामदेव ने योग को हर इंसान के जीवन का हिस्सा बना ...
16
17
अभी लॉकडाउन का समय चल रहा है, ऐसे समय में आप सूर्य नमस्कार को अपना कर अपनी प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा सकते हैं-
17
18
अंगसंचालन या सूक्ष्म व्यायाम के बाद ही हमें योग के आसन करना चाहिए। मुख्‍यत: 84 योग आसन हैं उन्हीं में से एक है परिवृत्त पार्श्वकोणासन। आओ जानते हैं कि यह योगासन किस तरह करते हैं और क्या है इसके फायदे।
18
19
योग में शरीर के भीतर जमा गंदगी को निकालने के लिए कई आसन और क्रियाएं हैं। क्रियाओं में जैसे गणेश क्रिया, जलनेति, धौति क्रिया और वमन क्रिया की जाती है। उसी तरह आसनों में उत्कटासन या उत्कट आसन का महत्व है। आओ जानते हैं कि यह किस तरह किया जाता है।
19