बिग कंट्रोवर्सी: MP में नेटफ्लिक्स इंडिया की वाइस प्रेसिडेंट और डायरेक्टर के खिलाफ FIR, फिल्म अ सूटेबल बॉय पर धार्मिक भावना भड़काने का आरोप

फिल्म ‘अ सूटेबल बॉय’ पर लव जिहाद को बढ़ावा देने का आरोप

Author विकास सिंह| Last Updated: सोमवार, 23 नवंबर 2020 (15:19 IST)
भोपाल। ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज हुई फिल्म ‘अ सूटेबल बॉय’ पर
धार्मिक भावना को भड़काने के आरोप में के रीवा जिले के सिविल लाइन थाने में की गई है। भाजपा नेता गौरव तिवारी की शिकायत पर पुलिस ने नेटफ्लिक्स इंडिया की उपाध्यक्ष (कंटेंट) मोनिका शेरगिल और अंबिका खुराना (डायरेक्टर) के खिलाफ IPC की धारा 295 A (जानबूझकर धार्मिक भावनाओं को भड़काने) के तहत एफआईआर दर्ज की है।
पुलिस की शुरुआती जांच में फिल्म में धर्म विशेष की भावना को जानबूझकर आहत करने का आरोप लगाया गया है। वहीं इस पूरे मामले को लेकर गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने आज विधि और गृहविभाग के उच्च अधिकारियों की बैठक ली।
मंदिर में रामधुन पर चुंबन गलत:इससे पहले गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने फिल्म ‘अ सूटेबल बॉय’ पर आपत्ति जताते हुए कहा कि उसमें कुछ भी सूटेबल मुझे नहीं लगा है, हमारे मंदिर के अंदर कोई भी चुंबन का दृश्य फिल्माया जाए पीछे से राम धुन बजाई जाए तो मैं इसको अच्छा नहीं मानता।
गृहमंत्री ने मंदिर में चुंबन सीन पर ऐतराज जताते हुए कहा कि इसके लिए अन्य स्थान भी है दूसरी बात दोनों वर्ण से अलग थे और जब मुस्लिम युवक, हिंदू युवती का मंदिर के अंदर रामधुन पर चुंबन करता है, तो मैं समझता हूं कि ऐसा क्यों करना है और ऐसा मार्ग जो किसी की भावनाओं को आहत करता हो तो क्यों करना इसको अगर जो चीज टाली जा सकती है तो क्यों नहीं टाल रहे हैं और मैं इससे अच्छा नहीं मानता यह गलत है और यह जहां भी होता है वहां भी गलत है। वह दौर और था यह दौर और है।



और भी पढ़ें :